Articles worth reading

स्कूल

NCERT: प्ले स्कूल के बच्चों का पढ़ाई नहीं शेयरिंग-केयरिंग हैबिट से होगा इवैल्यूएशन

टीचर को इस संबंध में काफी सेंसेटिव रहना चाहिए कि किस बच्चे की किस एक्टिविटी को किस खास वक्त पर नोट करना है। बच्चे की छोटी से छोटी आदतों पर भी ध्यान दिया जाना चाहिए। जैसे कि- वो पेंसिल कैसे पकड़ता है?

दिल्ली में चल रहे 12 फर्जी एजुकेशन बोर्ड, इनमें नहीं कराएं एडमिशन

देश के अलग-अलग हिस्सों से स्कूल बोर्ड के सर्टिफिकेट वेरिफिकेशन की जो रिक्वेस्ट आती है, उसके आधार पर बताया जाता है कि ये सर्टिफिकेट ठीक हैं या नहीं। 

CBSE Result 2018: मई के आखिरी हफ्ते में आएगा 10th-12th का रिजल्ट

12th इकोनॉमिक्स और 10th मैथ्स के पेपर लीक केस के चलते री-एग्जाम लिया गया था। हालांकि री-एग्जाम के होने की वजह से 12th के स्टूडेंट्स कई एंट्रेंस एग्जाम नहीं दे पाए।

CBSE: अगले सेशन से ई-लिंक और सीडी के जरिए ही भेजे जाएंगे पेपर

पेपर के डिजीटल फॉर्म में हाेने के चलते इसमें दो पासवर्ड एंटर करने होंगे। जिसके बाद ही सीडी या लिंक से पेपर डाउनलोड किए जा सकेंगे।

NCERT: स्कूलों में सिक्योर होंगे कम्प्यूटर लैब, गाइडलाइन जारी

स्टूडेंट्स इंटरनेट का सेफ, लीगल और एथिकल यूज करें इसके लिए काउंसिल ने टीचर्स, स्कूल और पैरेंट्स के लिए डीटेल गाइडलाइन भेजी है।

NTSE : मध्यप्रदेश के 275 स्टूडेंट्स हुए सैकेंड राउंड के लिए क्वालिफाई, 13 मई को होगा एग्जाम

एनटीएसई में केवल 10th में स्टडी कर रहे स्टूडेंट्स ही शामिल हो सकते हैं। हर साल इस एग्जाम में 10 लाख स्टूडेंट्स हिस्सा लेते हैं।

बच्चों की सेहत और सुरक्षा के लिए एनसीपीसीआर की नई गाइडलाइन जारी 

एनसीपीसीआर ने बच्चों की स्कूल कैंपस में सिक्योरिटी, कैंटीन की हाइजीन, स्कूल की साफ-सफाई और स्कूल बस में सिक्योरिटी से जुड़ी गाइडलाइंस जारी की गई है। 

वरिष्ठ स्वास्थ्य मंत्रालय का आदेश अब स्कूलों में पढ़ाया जाएगा सेक्स एजुकेशन

वरिष्ठ स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार स्कूलों में हफ्ते में कम से कम एक पीरियड सेक्स एजुकेशन का हो। सेक्स एजुकेशन का मॉड्यूल टीनेजर्स से जुड़े इम्पोर्टेन्ट इश्यूज को कवर करेगा।

स्कूलों में बच्चों की सुरक्षा के लिए 6 महीने में बने पॉलिसी - सुप्रीम कोर्ट

यह निर्देश गुड़गांव के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में हुए बच्चे की हत्या के मामले में उसके पिता की ओर से दायर याचिका पर दिए गए हैं। उन्होंने ही यह मांग रखी थी।

काउंसलिंग के बाद छात्रों को मिलेंगे सिचुएशन बेस्ड प्रोजेक्ट

सीबीएसई और केंद्रीय विद्यालय में स्टूडेंट्स को समर वेकेशन में होम असाइनमेंट दिए जाएंगे। इन असाइनमेंट की रिपोर्ट सब्जेक्ट टीचर को जुलाई में सब्मिट करनी होगी। ज्यादातर स्टूडेंट्स को इस बार सिचुएशन और प्रैक्टिकल बेस्ड असाइनमेंट मिलेंगे।