बायोटेक्नोलॉजी में बीएससी के बाद अच्छी संभावनाएं हैं?

मुझे बायोटेक्नोलॉजी में करियर बनाना है तो बीएससी के बाद क्या करूं - आरती साहा

करियर डेस्क । बायोटेक्नोलॉजी सेक्टर तेजी से बढ़ते सेक्टर्स में से एक है और यह देश ही नहीं बल्कि विदेश में भी कॅरिअर की मजबूत संभावनाएं उपलब्ध करवा रहा है। यह एक इंटरडिसीप्लीनरी एरिया है जो केमिकल इंजीनियर, एग्रीकल्चर, एनिमल हसबैंड्री, बायोकेमिस्ट्री, बायो फिजिक्स, बॉटनी, डेयरी टेक्नोलॉजी, फिशरी डेवलपमेंट, एनवायरन्मेंटल प्रोटेक्शन, जेनेटिक्स, हॉर्टिकल्चर मेडिसिन, माइक्रोबायोलॉजी, मॉलिक्युलर वाइरोलॉजी, इम्यूनोलॉजी से जुड़ा है। बता रहे हैं एक्सपर्ट  करियर काउंसलर जितिन चावला . . .

यहां से कर सकते हैं पीजी 

बीएससी के बाद बायोटेक्नोलॉजी में एमएससी या इंटीग्रेटेड पीएचडी कर सकते हैं। जेएनयू, डीयू, आईआईएससी, एम्स, आईएआरआई व बीएचयू जैसे टॉप संस्थानों में एडमिशन ले सकते हैं। एडमिशन के लिए आपको जैम, एम्स, जेईएसटी और जेएनयू जैसी प्रवेश परीक्षाएं देनी होंगी।

इन क्षेत्रों में मिलेगी नौकरी 

बायोटेक्नोलॉजी अपने आप में कई शाखाओं को समेटे हुए है। यही नहीं बतौर बायोटेक्नोलॉजिस्ट आप बहुत सी इंडस्ट्रीज और सेक्टर में पैदा हो रही बड़ी मांग का फायदा भी ले सकते हैं। कृषि और केमिकल इंडस्ट्रीज के अलावा फार्मास्यूटिकल कंपनियों जैसे रैनबैक्सी, डॉ रेड्डीज लैबोरेटरी, पिरामल हेल्थकेयर, ग्लैक्सो स्मिथलाइन में रोजगार के कई अवसर उपलब्ध होते हैं। यहां आप प्रॉडक्शन से लेकर, प्लानिंग और मैनेजमेंट के पदों पर काम कर सकते हैं। रिसर्च लैबोरेटरीज में भी काम के कई मौके होते हैं। इस विषय की डिग्री के साथ हॉस्पिटल मैनेजमेंट व एडमिनिस्ट्रेशन का क्षेत्र भी चुन सकते हैं।

रिसर्च के भी हैं मौके 

बायोटेक्नोलॉजी में बीएससी के बाद आप रिसर्च के लिए सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी, नेशनल बॉटनिकल इंस्टीट्यूट, डीबीटी, एफआरआई और एम्स जैसे रिसर्च इंस्टीट्यूट जॉइन कर सकते हैं जहां बायोटेक्नोलॉजी से संबंधित रिसर्च की जाती है।

 

Next News

एग्रीकल्चर में बीएससी के बाद ऐसे बना सकते हैं करियर

एग्रीकल्चर में बीएससी के बाद जॉब का क्या स्कोप है?

करियर काउंसलर बता रहे हैं रेलवे में नौकरी के क्या हैं मौके?

भारतीय रेल में नौकरी के कौनसे अवसर हैं, जानकारी दें ? - सागर

Array ( )