रिक्रूटर्स को पसंद आएगा वीडियो रेज्युमे

वीडियो रेज्युमे की मदद से दूसरों की तुलना में खुद को बेहतर तरीके से पेश किया जा सकता है। इन दिनों वीडियो रेज्यूमे एक ऐसा विकल्प है जिसे रिक्रूटर पसंद कर रहे हैं।

करियर डेस्क। एचआर मैनेजर्स के पास अलग-अलग वैकेंसी के लिए हर दिन हजारों की संख्या में एप्लीकेशंस आती हैं। ऐसे में उन रेज्यूमे को प्राथमिकता मिलती है, जो दूसरे कैंडिडेट्स की तुलना में अलग होते हैं। दरअसल क्रिएटिव जॉब एप्लीकेशन आपको भीड़ से अलग दिखाती है, जिससे नौकरी मिलने की संभावनाएं बढ़ सकती हैं। इन दिनों वीडियो रेज्यूमे एक ऐसा विकल्प है जिसे रिक्रूटर पसंद कर रहे हैं। इसकी मदद से आप अपनी क्वालिफिकेशन व स्किल्स को दूसरे उम्मीदवारों की तुलना में अलग ढंग से प्रस्तुत करते हुए रिक्रूटर पर अपना इंप्रेशन भी कायम कर सकते हैं। कुछ टिप्स, जो वीडियो रेज्यूमे को तैयार करने में मददार साबित होंगे।

स्क्रिप्ट बनाएं 

एक अच्छी स्क्रिप्ट को अपने बेस्ट पांच पॉइंट्स के रूप में तैयार करें। फिर इसे बिना देखे बोलने की प्रैक्टिस करें। वीडियो की अवधि 2 मिनट से ज्यादा की न रखें क्यों लंबे वीडियो देखने का समय रिक्रूटर के पास नहीं होता। वीडियो के अंत में सबटाइटल में अपना कॉन्टैक्ट नंबर जरूर दें।

दोहराव न करें 

वीडियो में अपने रेज्यूमे को किसी चैप्टर की तरह न पढ़ने लगें। आपको इसमें अपनी खासियतों और स्किल्स के बारे में बताना चाहिए। एक ही बात को बार-बार न दोहराएं। याद रखें वीडियो रेज्यूमे में आपकी कम्यूनिकेशन स्किल्स भी नजर आएंगी, ऐसे में उन पर विशेष ध्यान दें। 

बेस्ट शूट को चुनें 

जरूरी नहीं कि वीडियो एक ही बार में शूट हो जाए। आप तीन से चार वीडियो शूट करें। जो आपको बेस्ट विकल्प लगे उसे चुनें। साथ ही इसमें एडिटिंग भी करें। कैमरा इसके लिए अच्छा इस्तेमाल करें। याद रखें, कमरा साउंडप्रूफ हो और बैकग्राउंड का भी विशेष ध्यान रखें। साथ ही इसे प्रोफेशनल लुक भी दें।

बॉडी लैंग्वेज पर फाेकस

वीडियो रेज्यूमे शूट करते समय आपको अपनी बॉडी लैंग्वेज का खास ख्याल रखना होगा। इसमें सबसे ज्यादा ध्यान आपके हावभाव पर ही दिया जाता है। इसमें ज्यादा पलकें झपकाने या कैमरे से हटकर इधर उधर देखने से बचना चाहिए और आत्मविश्वास के साथ खुद को रिक्रूटर के सामने प्रस्तुत करना चाहिए। 


 

Next News

रेज्यूमे में इन गलतियों से बदल सकती है रिक्रूटर की सोच

रेज्यूमे में अगर आपने स्पेलिंग्स या ग्रामर में गलतियां की हैं तो रिक्रूटर समझता है कि आपने इसे जल्दबाजी में बनाया है। इससे आपकी एकाग्रता का अंदाजा लगाया

सही करियर ऑप्शन चुनने में मदद करेंगे ये टिप्स

सही करियर का चुनाव करने में अपनी ताकतों और कमियों को जानना जरूरी है।सही करियर का चुनाव न केवल आपको संतोष देता है बल्कि सफलता भी। लेकिन यहां सवाल यह उठता

Array ( )