आप तभी सफल हो सकते हो जब दूसरों पर भरोसा करना सीखोगे- बिल गेट्स

गेट्स को समझ आया कि माइक्रोसॉफ्ट तभी सफल होगा, जब वे खुद दूसरों पर भरोसा करना सीखेंगे।

एजुकेशन डेस्क। जब बिल गेट्स माइक्रोसॉफ्ट को लॉन्च कर रहे थे तो उस वक्त न केवल ज्यादातर कोड्स वे खुद लिखते थे बल्कि दूसरों के लिखे कोड्स को भी फिर से तैयार करते थे। आखिरकार उन्हें खुद को अपने सहयोगियों के काम को रिवाइज करने और उसे परफेक्ट करने से रोकना पड़ा। वे बताते हैं, उस वक्त मुझे अपने आपसे कहना पड़ता था कि हम उस कोड को काम में लेने जा रहे हैं जिसे मैंने एडिट नहीं किया है। गेट्स तमाम मुश्किलों के साथ तब तक ऐसा करते रहे जब तक कि उनकी टीम 40 लोगों की नहीं हो गई। हायरिंग के समय वे हरेक उम्मीदवार का इंटरव्यू भी खुद लेते थे। इससे हायरिंग प्रक्रिया मुश्किल होती थी और टीम की प्रॉडक्टिविटी को घटा देती थी। यही वह वक्त था जब गेट्स ने अपने कॉलेज के दोस्त स्टीव बॉलमेर को हायर किया। स्टीव ने गेट्स को यह समझने में मदद की कि कैसे वे अपने द्वारा किए गए वायदों की सीमा तय करें। स्टीव ने उन्हें यह भी सिखाया कि कैसे वे बेहतरीन लोगों को हायर कर सकते हैं। गेट्स कहते हैं, तब मैंने स्टीव को जिम्मेदारियां सौंपी। वह लगातार मुझसे कहता, हम ऐसे प्रोग्रामर्स को हायर करने जा रहे हैं जिनसे आप कभी नहीं मिले। मेरी अनिच्छा के बावजूद अपनी बात पर अडे रहने के नुकसान उसने मुझे समझाए। आखिरकार गेट्स को समझ आया कि माइक्रोसॉफ्ट तभी सफल होगा, जब वे खुद दूसरों पर भरोसा करना सीखेंगे। वे कहते हैं, अंतत: मेरा रोल एक लीडर और टॉप मैनेजर्स के रिव्यूअर का हुआ और मैंने कुछ बेहतरीन अनुभव वाले लोगों को हायर किया। लेकिन मैं यह सुनिश्चित करता था कि वे सभी कॉमन विजन का पीछा कर रहे हों। अंतत: गेट्स ने खुद को मैनेजरियल रोल के मुताबिक ढाला और पाया कि उनके नए प्रोफेशनल्स हायरिंग में उनकी तुलना में बेहतर थे। वे कहते हैं, वह चुनना जिसमें आप खुद बेहतर हैं और उसमें दूसरे लोगों को शामिल करना भी अहम है तभी आप सफलता की ओर बढ़ पाएंगे। 

बिल गेट्स के बारे में कुछ तथ्य

- वर्ष 1975 में बिल गेट ने पाल एलन के साथ विश्व की सबसे बड़ी साफ्टवेयर कम्पनी की माइक्रोसॉफ्ट की स्थापना की।
- 32 साल पूरे होने के पहले ही 1987 में उनका नाम अरबपतियों की फ़ोर्ब्स की सूची में आ गया और कई साल तक वो इस सूची में पहले स्थान पर बने रहे।
- पढाई के दौरान ही कंप्यूटर प्रोग्राम बनाकर उन्होंने 4,200 डालर कमा लिए थे।
- बिल गेट्स ने टीचर से कहा था कि मैं 30 वर्ष कि उम्र में करोडपति बनकर दिखाऊंगा और 31 वर्ष में वह अरबपति बन गये।
- 13 साल की आयु में उन्हें लेकसाइड स्कूल में डाला गया, जो की एक प्रचलित प्राइवेट स्कूल था।
- बिल गेट्स ने जनवरी 2000 में माइक्रोसोफ्ट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी का पद छोड़ दिया।
- 27 जून, 2008 गेट्स के लिए माइक्रोसॉफ्ट में अन्तिम पूर्ण दिवस था। वे माइक्रोसॉफ्ट में अंशकालिक, अकार्यकारी अध्यक्ष के रूप में रहते हैं।
 

Next News

हमें एक ही सीख दी गई थी- समंदर और बोट जेंडर नहीं जानते, भूल जाना तुम लड़की हो

भारत की 6 महिला नौसैनिक आईएनएस तारिणी से समुद्र के रास्ते दुनिया नापकर सोमवार (21 मई) को लौट रही हैं

25 की उम्र में मत मरने दीजिए अपने सपनों को : जीवेशु अहलुवालिया, कॉमेडियन

कामयाब कॉमेडियन जीवेशु अहलुवालिया के इन अनुभवों में छिपा है स्टूडेंट्स के लिए ढेर सारा मोटिवेशन

Array ( )