Articles worth reading

तमिलनाडु बोर्ड: 12वीं का रिजल्ट घोषित, 91.1% स्टूडेंट्स हुए पास

विरुधनगर डिस्ट्रिक्ट के सबसे ज्यादा 97% स्टूडेंट्स ने पास किया। दूसरे नंबर पर ईरोड डिस्ट्रिक्ट रहा जहां पर 96.3% स्टूडेंट्स पास हुए।

एजुकेशन डेस्क, नई दिल्ली। डायरेक्टरेट ऑफ गवर्नमेंट एग्जामिनेशन (DGE) तमिलनाडु ने बुधवार को 12वीं क्लास के रिजल्ट अपनी ऑफिशिल वेबसाइट tnresults.nic.in पर अप्लोड कर दिया है। इस साल ओवर ऑल 91.1% स्टूडेंट्स पास हुए । जिसमें 87.7% लड़के और 94.1% लड़कियां हैं। रिजल्ट की घोषणा स्टेट के एजुकेशन मिनिस्टर केके सेंगोटेया ने की। स्टूडेंट्स अपना रिजल्ट ऑफिशियल वेबसाइट पर चेक कर सकते हैं। 

ऐसे करें अपना रिजल्ट चेक 

- सबसे पहले ऑफिशियल वेबसाइट tnresults.nic.in पर जाएं। 
- यहां पर '12th रिजल्ट' की लिंक पर क्लिक करें।
- वहां पर अपना रोल नंबर और बाकी की जानकारी दें और सबमिट ऑप्शन पर क्लिक करें।
- इतना करते ही रिजल्ट ओपन हो जाएगा। 

2014 से 2017 के मुकाबले सबसे कम रहा रिजल्ट
- इस साल चेन्नई में 12वीं क्लास का ओवा ऑल पासिंग परसेंटज रिजल्ट पिछले पांच साल के मुकाबले सबसे कम रहा हैं। 

 
इस साल ऐसा रहा रिजल्ट 
- पिछले साल के मुकाबले इस साल 12वीं क्लास के ऑवर ऑल स्टूडेंट्स के पासिंग परसेंटेज में कमी आई हैं।
 - पिछले साल जहां 12वीं में 92.2% स्टूडेंट्स पास हुए थें
-  इस साल 91.1% स्टूडेंट्स पास हुए हैं। 
- इस साल 87.7% लड़के पास हुए। 
- वहीं 94.1% लड़कियां पास हुई। 

सब्जेक्ट वाईज ऐसा रहा रिजल्ट 
- फिजिक्स - 96.2
- केमिस्ट्री - 95.0
- बायोलॉजी - 96.3
- मैथ्स - 96.4
- बॉटनी - 93.9
- जूलॉजी -  91.3    
- कामर्स- 90.3
- कम्प्यूटर साइंस - 96.1 

 

मार्च में हुए थे एग्जाम 
- इस साल 12वीं के एग्जाम 1 मार्च से 6 अप्रैल के बीच हुए थे। जिसमें  कुल 9.33 लाख स्टूडेंट्स शामिल हुए थे।
- विरुधनगर डिस्ट्रिक्ट के सबसे ज्यादा 97% स्टूडेंट्स ने पास किया। दूसरे नंबर पर ईरोड डिस्ट्रिक्ट रहा जहां पर 96.3% स्टूडेंट्स पास हुए। तीसरे नंबर पर तिरुपुर डिस्ट्रिक्ट के 96.1% स्टूडेंट्स पास हुए हैं।

Next News

एजुकेशन न्यूज ब्रीफ: 15 बड़ी खबरें जो आपके लिए हो सकती है महत्वपूर्ण

एग्जाम अपडेट, कॉन्टेस्ट, क्विज कॉपिटिशन, ओलंपियाड से जुड़ी बड़ी खबरें

अटेंडेंस के वक्त स्टूडेंट्स यस सर-यस मैडम की जगह अब बोलेंगे ' जय हिंद '

प्रदेश के 1 लाख से ज्यादा सरकारी स्कूलों में लागू होगा यह नियम, इसके बाद प्रायवेट स्कूलों में लागू किया जाएगा।

Array ( )