IIT-JEE 2018: स्मार्ट स्टडी स्ट्रेटेजी और कॉन्सन्ट्रेशन ने सर्वेश महतानी को बनाया था 2017 में टॉपर

जेईई एडवांस 2017 में पंचकुला चंडीगढ़ के सर्वेश महतानी ने 366 में से 339 स्कोर लाकर देश में टॉप किया था। जबकि मेन एग्जाम में उनकी 55'th रैंक थी।

एजुकेशन डेस्क। आजकल ज्यादातर पेरेंट्स बच्चों के टीवी पर कार्टून देखने से रोकते हैं लेकिन आईआईटी-जेईई 2017 में टॉप करने वाले चंडीगढ़ के सर्वेश महतानी की सफलता की कहानी कुछ अौर ही है। आईईटी जेईई एडवांस रिजल्ट 2017 में चंडीगढ़ के सर्वेश महतानी ने टॉप किया था जबकि पुणे के अक्षत चुग दूसरे नंबर पर रहे। दिल्ली के अनन्य अग्रवाल को तीसरा स्थान मिला था। 2017 में JEE एडवांस्ड IIT मद्रास ने आयोजित किया था।

एग्‍जाम टेंशन को कैसे किया दूर

  • सर्वेश का लक्ष्य पहले से तय था। वे हमेशा टॉप 10 में शामिल होना चाहते थे। 
  • स्ट्रेस रिलीज करने टीवी पर कार्टून देखे और म्यूजिक सुना।
  • नॉवेल पढ़ने और बैडमिंटन खेलकर भी स्ट्रेस को दूर करने में कामयाब रहे।
  • सर्वेश की बहन भी इंजीनियरिंग कर रही हैं। उनकी मदद लेकर अपनी प्रॉब्लम्स को दूर किया।
  • सर्वेश का पसंदीदा सबजेक्ट मैथ्स ही रहा। वे आगे जाकर आईआईटी मुंबई में कम्प्यूटर साइंस पढ़ना चाहते हैं।

सफलता का असली मंत्र

सफलता के मंत्र के बारे में सर्वेश कहते हैं कि हार्ड वर्किंग, स्ट्रेटेजी बनाकर स्टडी करना और कॉन्सन्ट्रेट रहना जरूरी है। जूनियर्स के लिए मैसेज देते हुए उन्हें शांत रहने और डेडिकेशन के साथ फोकस रहने की सलाह दी। साथ ही एग्जाम से पहले खुद को सोशल मीडिया से दूर रखने कहा।

स्मार्टफोन से बना ली दूरी

महतानी ने बताया कि अपने टार्गेट को अचीव करने उन्होंने पिछले दो साल से स्मार्टफोन यूज नहीं किया। पिछले दो साल के दौरान सर्वेश ने अपने कई शौक पूरे नहीं किए। दोस्तों के साथ घूमना भी बंद कर दिया था। साथ ही बताया कि स्कूल और कोचिंग के अलावा पांच से छह घंटे स्टडी को दिए और छुट्टी के दिन भी 8-10 घंटे स्टडी में ही स्पैंड किए। 

थ्री इडियट्स से मिली इंस्पीरेशन

महतानी आमिर खान की फिल्म ‘थ्री इडियट्स’ से इंस्पायर्ड थे। इंफोसिस के को-फाउंडर एन.आर. नारायण मूर्ति को अपना आइडल मानने वाले सर्वेश ने बताया कि जब वे 8'th क्लास में थे तब यह फिल्म रिलीज हुई थी। इस फिल्म के सभी कैरेक्टर्स ने सर्वेश को इंस्पायर्ड किया था। 

Next News

IIT JEE : एक्सपर्ट से जाने ऑनलाइन और ऑफलाइन के बीच का अंतर 

8 अप्रैल को देशभर में JEE Main का ऑफलाइन एग्जाम हुआ था। वहीं 15 व 16 अप्रैल को जेईई मेन का ऑनलाइन एग्जाम हुआ। कई स्टूडेंट ऑनलाइन और ऑफलाइन को लेकर असमंजस

13.36 लाख स्टूडेंट्स देंगे नीट,  पिछले साल 11.50 लाख स्टूडेंट्स ने दी थी परीक्षा

इस साल मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम नीट में कॉम्पीटिशन का लेवल और बढ़ जाएगा। इस साल करीब 13.36 लाख स्टूडेंट्स नीट की परीक्षा देंगे। दूसरी ओर, एडमिशन के लिए

Array ( )