Articles worth reading

रांची यूनिवर्सिटी: 24 अप्रैल व 3 मई को हुई बीएड की परीक्षा फिर से

5 मई को आया था रिजल्ट जिसमें 50% स्टूडेंट्स फेल हो गए थे।

एजुकेशन डेस्क, रांची। रांची यूनिवर्सिटी में बीएड फर्स्ट सेमेस्टर (2016-18) का एग्जाम का रिजल्ट 5 मई को आया था। इसमें लगभग दर्जनभर बीएड कॉलेजों में 40 से 50%  तक स्टूडेंट्स फेल हो गए थे। फेल स्टूडेंट्स पिछले एक सप्ताह से रांची विवि प्रशासन पर कॉपियों की जांच में लापरवाही का आरोप लगा रहे थे। वीसी, प्रोवीसी, डीएसडब्ल्यू और रजिस्ट्रार से मिलकर उत्तर कॉपियों का फिर से मूल्यांकन के लिए दबाव बनाए हुए थे। कॉन्फ्रेंस हॉल में शनिवार को वीसी डॉ. रमेश कुमार पांडेय की अध्यक्षता में एग्जाम बोर्ड की बैठक हुई, जिसमें बीएड की उत्तर पुस्तिकाओं को फिर से जांच करने का निर्णय लिया गया। 

 

परीक्षा की तिथि बाद में घोषित की जाएगी 

- रांची यूनिवर्सिटी प्रशासन ने स्नातक कला, विज्ञान और वाणिज्य की परीक्षा में बार-बार प्रोग्राम में संशोधन किया था। इस कारण काफी संख्या में स्टूडेंट्स की परीक्षा छूट गई थी। छात्रों ने आवेदन देकर रांची विवि प्रशासन से फिर से परीक्षा आयोजित करने की मांग रखी थी। एग्जाम बोर्ड ने 24 अप्रैल और 3 मई को हुई पेपर की परीक्षा फिर से लेने से संबंधित प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान कर दी। परीक्षा की तिथि बाद में घोषित की जाएगी। 

 

रांची विवि के एग्जाम बोर्ड के सदस्यों ने 10 प्रस्तावों को दी स्वीकृति 

- बीएड स्टूडेंट्स एग्जाम बोर्ड में लिए गए फैसले को जानने के लिए प्रशासनिक भवन के पास एकत्रित थे। 

 

फैसले को जानने के बाद स्टूडेंट्स खुश 

- बीएड स्टूडेंट्स एग्जाम बोर्ड में लिए गए फैसले को जानने के प्रशासनिक भवन के पास एकत्रित थे। जब उन्हें फिर से मूल्यांकन की सूचना मिली तो सबको खुशी हुई है। बैठक में प्रोवीसी डॉ. कामिनी कुमार, रजिस्ट्रार डॉ. अमर चौधरी, परीक्षा नियंत्रक आशीष झा, सोशल साइंस डीन डॉ. आईके चौधरी, कॉमर्स डीन डॉ. जीके श्रीवास्तव और ह्यूमिनिटी डीन डॉ. वीवीएन पांडेय समेत अन्य सदस्य थे। 

 

सिलेबस से बाहर प्रश्न वाले दो पेपर की फिर से परीक्षा 

- आरयू थर्ड पार्ट की परीक्षा में दो पेपर में सिलेबस से बाहर के प्रश्न पूछे गए थे। वहीं बीबीएस बीबीए के एचआर ब्रांच का प्रश्न डोरंडा कॉलेज केंद्र पर नहीं पहुंचा था। इतिहास के पेपर आठ में सिलेबस के बाहर के सवाल पूछे गए थे। परीक्षार्थियों ने इन पेपर में सादी कॉपियां सेंटर पर जमा कर दिया था। एग्जाम बोर्ड के सदस्यों ने इन दोनों पेपर की फिर से एग्जाम लेने की स्वीकृति प्रदान कर दी है। 

 

बीटेक स्टूडेंट्स के लिए होगा समर स्पेशल एग्जाम 

- रांची यूनिवर्सिटी के अंतर्गत तीन इंजीनियरिंग कॉलेज हैं। इन कॉलेजों के फर्स्ट ओर सेकेंड सेमेस्टर के स्टूडेंट्स को क्रेडिट पूरा नहीं होने से थर्ड सेमेस्टर का एग्जाम फाॅर्म जमा करने से वंचित हो गए थे। परीक्षा बोर्ड ने समर एग्जाम आयोजित करने के प्रस्ताव को स्वीकृति दी। 

 

उत्तर पुस्तिका नहीं मिली फिर से होगी परीक्षा 

- रांची यूनिवर्सिटी के एग्जाम बोर्ड ने पीएचडी उपाधि से संबंधित प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान कर दी है। इसके अलावा पीजी अंग्रेजी की मनीषा साहू के इंटरनल मार्क्स पोस्ट करने पर सहमति बनी है। एग्जाम बोर्ड की पिछली बैठक 27 मार्च को हुई थी। 
 

Next News

एजुकेशन न्यूज ब्रीफ: 15 बड़ी खबरें जो आपके लिए जानना है जरूरी

एग्जाम, एडमिट कार्ड, एडमिशन से जुड़ी वो सारी खबरें जो आपके लिए जानना जरूरी है।

CBSE: बोर्ड में पहली बार अलग से लिए भारतीय खिलाड़ियों के एग्जाम

ये सभी खिलाड़ी नियमित बोर्ड एग्जाम के समय अंतरराष्ट्रीय खेलों में भाग ले रहे थे।

Array ( )