Articles worth reading

राजस्थान: प्री-बीएसटीसी का पेपर लीक, 20 हजार में बेचा, ब्लूटूथ से नकल करा रहा गिरोह गिरफ्तार

परीक्षा शुरू होने से 3 घंटे पहले सोशल मीडिया पर वायरल हुआ पेपर, 6 लोग गिरफ्तार,बाड़मेर में अभ्यर्थियों को 20 हजार में बेचा

एजुकेशन डेस्क। राजस्थान में प्री-बीएसटीसी परीक्षा शुरू होने से तीन घंटे पहले ही पेपर आउट हो गया। पेपर को आउट करने के लिए पीछे नकल गिरोह सक्रिय था। जिसने पेपर को आउट करवाया और 15 से 20 हजार रुपए एक-एक अभ्यर्थी को तीन घंटे पहले हल किया हुआ पेपर बेच परीक्षा देने के लिए भेजा था। वहीं परीक्षा शुरू होने से एक घंटे पहले हल किए हुए उसी पेपर को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। जिसके बाद कुछ लोगों ने एक-दूसरे को पर्सनल शेयर किया, लेकिन एक-दो ने इसे ग्रुपों में वायरल कर दिया।

निजी स्कूलों में सेंटरों के भरोसे परीक्षा

जिले में बीएसटीसी परीक्षा के 80 फीसदी केंद्र निजी स्कूलों में थे। जहां केंद्राधीक्षक से लेकर वीक्षक तक उसी स्कूल के थे। ऐसे में परीक्षा में बड़ी चूक हुई। कई स्कूलों में 10-15 हजार रुपए में हल करवाने के भी दावे किए गए। कई ऐसे छोटे सेंटरों का परीक्षा केंद्र बना दिया गया, जिन्होंने अभी तक कोई परीक्षा नहीं करवाई थी। यूनिवर्सिटी से शेड्युल था कि पेपर को 45 मिनट पहले खोला जाएगा। इस बारे में जीजीटीयू के वीसी प्रोफेसर कैलाशचंद्र सोढ़ानी का कहना है कि पेपर आउट होने की बात गलत है। 

होटल से गिरोह ऑपरेट कर रहा था ब्लूटूथ, 4 को पकड़ा 

बाड़मेर। शहर की सबसे बड़ी होटल के एक कमरे में बैठ गिरोह ब्लूटूथ से नकल करवा रहा था। सूचना पर सदर, कोतवाली थाने की पुलिस ने गिरोह को दबोच लिया। जिनके कब्जे से मोबाइल फोन, लेपटॉप बरामद किए है। परीक्षा केंद्रों पर बैठे परीक्षार्थियों को ब्लूटूथ से नकल करवाई जा रही थी। पुलिस ने 4 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की, जिसमें बड़े गिरोह का खुलासा हुआ है। 

सीकर में परीक्षा से 1 घंटे पहले पेपर और आंसर की आउट, सभी 200 सवाल मिले 

सीकर - बीएसटीसी का हूबहू पेपर रविवार को आउट हो गया। परीक्षा दो बजे से थी लेकिन बीएसटीसी के पेपर की सी सीरीज की बुकलेट की फोटोकॉपी दोपहर एक बजे वॉट्सएप ग्रुपों पर वायरल हो गई। इतना ही नहीं पेपर की हाथ से लिखी आंसर की भी वॉट्सएप ग्रुपों पर थी। वायरल पेपर पर 200 सवाल हूबहू मिले। भास्कर रिपोर्टर को दोपहर 1.37 बजे वायरल पेपर और उसकी हाथ से लिखी आंसर की मिली। सीकर के फर्स्ट रैंक क्लासेज के निदेशक पूर्व असिस्टेंट कमांडेंट बीएल रेवाड़ ने भास्कर को यह पेपर उपलब्ध कराया। भास्कर ने इसे 1.42 बजे सीकर के परीक्षा समन्वयक एसके गर्ल्स कॉलेज के डॉ. भूपेंद्र कुमार दुल्लड़ को वॉट्सएप किया और उन्हें तुरंत फोन कर इसकी सूचना दी। सूचना के बावजूद उन्होंने वाॅट्सएप चैक तक नहीं किया। इसके बाद जनजातीय विश्वविद्यालय, बांसवाड़ा के कंट्रोल रूप में सूचना दी। वहीं विवि. के रजिस्ट्रार और परीक्षा प्रभारी सोहनसिंह कटार को वॉट्सएप पर पेपर भेजा और उन्हें इसकी सूचना दी। 


मुझे तो मामले की जानकारी नहीं है 
एसओजी कार्यालय में अगर बीएल रेवाड़ ने फोन करके पूरे मामले की जानकारी दी गई थी तो हमें इसका पता जरूर चलता। कार्यालय से उन्हीं संतोषजनक जवाब नहीं मिला तो उन्हें सीकर के स्थानीय थाना और एसपी को सूचना देनी चाहिए थी। मुझे इस मामले की जानकारी नहीं है। अगर ऐसा कुछ है भी तो मामले की जांच कराई जाएगी।  -दिनेश एमएन, आईजी एसओजी


महाराष्ट्र में फार्मेसी परीक्षा का पेपर लीक एक छात्र गिरफ्तार, 2 फरार 

वहीं महाराष्ट्र के अमरावती में स्थानीय गाडगेनगर पुलिस ने शनिवार की रात फार्मासी परीक्षा का पर्चा लीक करने के मामले में आरोपी प्रज्वल दीपक वानखड़े (19) को गिरफ्तार किया है। जबकि दो आरोपी फरार होने में कामयाब हो गए।
बताया जाता है कि शनिवार 5 मई की सुबह 9 से 12 बजे के दौरान फार्मासी बी फार्म व्दितीय वर्ष के सेमिस्टर की परीक्षा चल रही थी। इस बीच शिवाजी साइंस कालेज में परीक्षा दौरान छात्र परीक्षा देने पहुंचे। छात्र प्रज्वल वानखडे ने अपने पास एन्ड्राइड मोबाइल छिपाकर रखा था। जैसे ही पेपर छात्रों को दिया गया, उसी समय प्रज्वल ने प्रश्न पत्रिका की मोबाइल में फोटो निकालकर वॉट्सएप के जरिए अपने मित्र आशीष फेंडर और सिध्देश भावे दोनों के मोबाइल पर भेज दी। इस मामले में गाडगेनगर पुलिस ने धारा 7, 8 विद्यापीठ कानून के तहत मामला दर्ज कर आरोपी प्रज्वल वानखडे को गिरफ्तार किया है। 

Next News

MHRD तैयार कर रहा नई एजुकेशन पॉलिसी, टेक्निकल कोर्सेस अब हिंदी में भी

हिंदी को देश में अपना उचित स्थान मिल सकें इसके लिए नई एजुकेशन पॉलिसी तैयार की जा रही है।

जेयू में शुरू होगी नेट की कोचिंग, 9 मई तक कराएं रजिस्ट्रेशन

नेट कोचिंग के लिए जेयू ने ऑनलाइन मंगाए एप्लीकेशन। हालांकि 10 एप्लीकेशंस आने पर ही क्लासेस शुरू होंगी।

Array ( )