Tips : कैंपस प्‍लेसमेंट के पहले ऐसी होगी तैयारी तो पहली बार में मिलेगी जॉब

अगर बड़ी कंपनियों में काम करना चाहते हैं तो स्टूडेंट्स को खुद को प्लेसमेंट के लिए तैयार करना चाहिए। इसके लिए कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है। 

एजुकेशन डेस्क । देशभर के संस्थानों में जल्‍द बड़ी-बड़ी कंपनियों द्वारा कैंपस प्लेसमेंट की प्रक्रिया शुरू की जाएंगी। इनमें अमेजॉन, पेटीएम, ओला, उबेर, इंटेल, मास्टरकार्ड, सैमसंग, याहू, इसरो के अलावा कई कंपनियां प्रमुख हैं। अगर आप भी आपके कॉलेज, संस्थान या यूनिवर्सिटीज में आने वाली कंपनियों की प्लेसमेंट में शामिल होना चाहते हैं, तो हम बता रहे हैं कि प्लेसमेंट के लिए आपको किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

शुरू करें तैयारी
अगर आप भी अपने कोर्स के अंतिम साल में हैं तो प्लेसमेंट प्रक्रिया में शामिल होने के लिए लिए अभी से तैयारी शुरू दें। सबसे पहले यह पता करें कि इस साल आपके संस्थान में कौन-कौन सी कंपनी आ रही है? आपकी रूचि के हिसाब कौन सी कंपनी आपके लिए बेहतर है और उसमें किस तरह का काम होता है? कंपनी इस बार किस पोस्ट के लिए कैडिडेट का चयन करने वाली है? कंपनी की चयन प्रक्रिया का क्या प्रोसेस है और इंटरव्यू में किस तरह के सवाल पूछे जा सकते हैं?

पहले से कर लें होमवर्क
प्लेसमेंट प्रक्रिया में शामिल होने से पहले आपको कुछ तैयारी कर लेनी चाहिए। आपको अपनी रूचि और कंपनी की डिमांड के हिसाब से विशेषज्ञता हासिल करनी चाहिए। इस विशेषज्ञता को कंपनी की व्यवहारिक जरूरतों से जोड़कर तैयारी करनी चाहिए की आप उस कंपनी के लिए किस तरह उपयोगी हो सकते हैं और वह कंपनी आपको ही क्यों सेलेक्ट करे।

इनोवशन पर करें काम
आप जिस भी फील्ड में पढ़ाई कर रहे हैं उस क्षेत्र में नई-नई चीजों की खोज करें और किसी प्रॉब्लम को सॉल्व करने के स्मार्ट तरीके को ढूंढ़ें। नई चीजों की जानकारी आपको होगी तो आपका कॉन्फिडेंस लेबल तो बढ़ेगा ही प्लेसमेंट के दौरान इंटरव्यू लेने वाले पर आपका पॉजिटिव इम्पैक्ट भी पड़ेगा।

प्रैक्टिकल पर करें फोकस
ज्यादातर कंपनियां आपकी डिग्री और थ्योरी नॉलेज के साथ-साथ प्रैक्टिकल नॉलेज भी देखती हैं। प्लेसमेंट के समय कंपनी यह देखना चाहती है कि आप अपनी नॉलेज का इस्तेमाल कंपनी को आगे बढ़ाने में किस तरह कर सकते हैं। अगर अभी तक आपने सिर्फ किताबी ज्ञान लिया है तो अभी से प्रैक्टिल प्रैक्टिस शुरू कर दें। ये प्लेसमेंट के समय आपको आपकी ड्रीम जॉब दिलाने में मदद करेगा।

ओवर कॉन्फिडेंट ना हों
कॉन्फिडेंस और ओवर कॉन्फिडेंस में बस मामूली सा अंतर होता है, इसलिए इस बात का ख्याल रखें। कैंपस प्लेसमेंट से पहले आपने अपने विषय की पूरी तैयारी अच्छे से की है, लेकिन इसके बावजूद भी हमेशा आपको सीखने वाला एटीट्यूड रखना चाहिए। प्लेसमेंट प्रकिया के दौरान आपके बॉडी लैंग्वेज से यह पता नहीं चलना चाहिए कि आप ओवर कॉन्फिडेंट हैं। इंटरव्यू के दौरान यह दिखाएं कि आपको नई-नई चीजें सीखने का जुनून है।
 

Next News

IIT: प्लेसमेंट में 66% की आई गिरावट, पिछले साल के मुकाबले कम छात्रों को मिली नौकरी

हाल ही मानव संसाधन मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक हर 3 आईआईटी छात्रों में से एक भी अच्छी नौकरी पाने में सफल नहीं हो सका है।

कैंपस प्लेसमेंट इंटरव्यू के दौरान जॉब पाने में हेल्पफुल साबित होंगे ये 10 कारगर टिप्स

कैंपस प्लेसमेंट के दौरान होने वाले इंटरव्यू को लेकर अक्सर स्टूडेंट्स काफी प्रेशर में रहते हैं। लेकिन कुछ बातों का ध्यान रखा जाए तो इसमें सफलता आसानी से

Array ( )