DU PG Admission 2018: दाखिले के लिए ऑनलाइन होगा एंट्रेंस टेस्ट

दिल्ली यूनिवर्सिटी पोस्ट ग्रेजुएट (मास्टर्स), एमफिल और पीएचडी कोर्सों के लिए इस साल से आॅनलाइन प्रवेश परीक्षा होगी। जिसके आधार पर एडमिशन दिया जाएगा।

एजुकेशन डेस्क। दिल्ली यूनिवर्सिटी में पोस्टग्रेजुएशन में दाखिले के लिए इस बार प्रवेश परीक्षा का आयोजन ऑनलाइन होगा। डीयू पोस्ट ग्रेजुएट (मास्टर्स), एमफिल और पीएचडी कोर्सों के लिए इस साल से आॅनलाइन प्रवेश परीक्षा होगी। पिछले साल इस योजना पर अमल नहीं किया गया था क्योंकि छात्रों ने इसका विरोध किया था। छात्रों का कहना था कि ऑनलाइन परीक्षा की स्थिति में गरीब और पिछड़े क्षेत्र के छात्रों को नुकसान होगा। 

एग्जाम में 55 फीसदी अंक होना जरूरी 
डीयू 50 से ज्यादा पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स ऑफर करता है। पोस्ट ग्रेजुएट की 50 फीसदी सीटों के लिए प्रवेश परीक्षा का आयोजन होता है। बाकी 50 फीसदी सीटों पर दिल्ली यूनिवर्सिटी के छात्रों का सीधे दाखिला होता है। सीधे दाखिले के लिए छात्रों का ग्रेजुएशन में 60 फीसदी मार्क्स और प्रवेश परीक्षा की स्थिति में 55 फीसदी मार्क्स होना जरूरी है। डीयू में ग्रेजुएशन के मैनेजमेंट कोर्सेज की रेस मई के पहले हफ्ते में शुरू हो सकती है। मैनेजमेंट के सबसे ज्यादा पॉप्युलर तीन कोर्सेज हैं-बैचलर ऑफ मैनेजमेंट (बीएमएस), बीए ऑनर्स बिजनेस इकनॉमिक्स और बीए (फाइनेंशियल इन्वेस्टमेंट एनालिसिस)। इन कोर्सेज में हजारों की संख्या में स्टूडेंट्स अप्लाई करते हैं। 

डीयू में पीजी कोर्सेज में 50 पर्सेंट सीटें डीयू से ग्रैजुएशन पूरी करने वाले स्टूडेंट्स के लिए रिजर्व होती हैं। उन स्टूडेंट्स को मेरिट के बेस पर ऐडमिशन मिलता है। बाकी 50 पर्सेंट सीटों पर देश के किसी भी कोने से स्टूडेंट्स अप्लाई कर सकते हैं। डीयू की पहले योजना थी कि सारी सीटों को एंट्रेंस के जरिए भरा जाए, लेकिन बाद में इस प्रपोजल को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया। इस साल पीजी कोर्सेज में एडमिशन पहले के फॉर्म्युले के मुताबिक ही होंगे। 

Next News

All India Exam : मई-जून में होंगे EPCO, CLAT और MBBS जैसे बड़े एग्जाम्स

आने वाले दो-तीन महीनों में देश में 10 से 12 बिग लेवल एग्जाम्स होने वाले हैं।

ICAI CPT 2018: 17 जून को आयोजित होगी परीक्षा, 26 अप्रैल तक होंगे रजिस्ट्रेशन

कॉमन प्रोफिशिएंसी टेस्ट का आयोजन में शामिल होने के लिए कैंडिडेट 26 अप्रैल तक रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। यह परीक्षा भारत में 196 केंद्रों पर आयोजित की जाएगी।

Array ( )