अब ऑडियो प्रोफाइल में तैयार कीजिए अपना रेज्यूमे, पसंद आएगा रिक्रूटर्स को 

रिक्रूटर अब सिर्फ सोशल मीडिया पर आपका रेज्यूमे देखकर संतुष्ट नहीं होते, बल्कि वे आपके बारे में ज्यादा जानना चाहते हैं।

करियर डेस्क । जॉब सर्च की प्रक्रिया अब एक सामान्य रेज्यूमे बनाकर अप्लाय करने तक सीमित नहीं रह गई है। बल्कि कई नई तकनीकों का इस्तेमाल यहां बढ़ता जा रहा है। रिक्रूटर अब सिर्फ सोशल मीडिया पर आपका रेज्यूमे देखकर संतुष्ट नहीं होते, बल्कि वे आपके बारे में ज्यादा जानना चाहते हैं। ऐसे में अपनी काबिलियत व पर्सनेलिटी को पेशेवर रूप में समझाने के लिए उम्मीदवार ऑडियो प्रोफाइल का इस्तेमाल कर रहे हैं। इस प्रोफाइल में आपको अपने रेज्यूमे की जानकारी डेढ़ से दो मिनट की रिकॉर्डिंग के जरिए भेजनी होती है। कुछ टिप्स, जो ऑडियो प्रोफाइल तैयार करने में आपके काम आएंगे।  


साउंड प्रूफ रूम : 

ऑडियो प्रोफाइल बनाने के लिए सबसे पहले ऐसी जगह चुनें जहां एकदम शांति हो। अगर हल्की सी भी आवाज वहां होगी तो वह भी रिकॉर्डिंग में शामिल हो जाएगी। ऐसे में रूम पूरी तरह साउंड प्रूफ होना चाहिए। आसपास के ट्रैफिक की आवाज भी ऑडियो को बिगाड़ सकती है। 


डिस्ट्रैक्शन से बचें 

अगर आप मोबाइल से रिकॉर्डिंग कर रहे हैं तो किसी भी तरह के डिस्ट्रैक्शन से बचना चाहिए। इसके लिए शुरुआत में ही मोबाइल नोटिफिकेशन ऑफ कर दें। अगर फोन वाइब्रेट होगा तो भी रिकॉर्डिंग ठीक से नहीं हो पाएगी। चाहें तो माेबाइल को फ्लाइट मोड पर कर दें।


वॉइस मॉड्यूलेशन 

चूंकि ऑडियो में रिक्रूटर आपके फेशियल एक्सप्रेशन और बाॅडी लैंग्वेज को नहीं देख सकते ऐसे में यह कमी आपको अपनी आवाज से पूरी करनी होती है। इसलिए ज्यादा हाई या लो-पिच में न बोलें। आवाज को स्पष्ट व सामान्य रखें। साथ ही उसमें उतार-चढ़ाव भी शामिल करें। 


टाइम लिमिट

अपने पूरे प्रोफाइल को दो मिनट में समेटने के लिए आपको स्पेसिफिक होना होगा। इसमें अपनी स्ट्रेंथ, कंपनी को आपको क्यों हायर करना चाहिए, आपमें ऐसी क्या क्वालिटी है जो औरों में नहीं है आदि की जानकारी दें। अंत में यह बताएं कि आप इस जॉब प्रोफाइल से क्या अपेक्षा रखते हैं। 
 

Next News

टेक्नोलॉजी सेक्टर में सफलता के लिए जरूरी चार स्किल 

पिछले कुछ सालों में टेक्नोलॉजी सेक्टर में बढ़ती जॉब्स की संख्या इस क्षेत्र की मजबूती की ओर इशारा कर रही है। ऐसे में यहां करियर शुरू करने वाले युवा पढ़ाई

कामयाबी देगी सही फैसला लेने की कला

किसी भी एक विकल्प को चुनने में जब असमंजस आपके लिए परेशानी खड़ी करता है तब आपकी निर्णय लेने की क्षमता अहम हो जाती है। आप चाहें तो अपनी इस क्षमता को विकसित

Array ( )