IIT JEE सीट छोड़ने वाले विदेशी छात्रों को नहीं मिलेगा एडमिशन

विदेशी छात्रों के लिए ऑनलाइन फॉर्म फिलिंग की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। जेईई मेन्स के बाद सबसे पहले विदेशी छात्रों को मौका दिया जा रहा है।

एजुकेशन डेस्क । पिछले साल आईआईटी की सीट छाेड़ने वाले विदेशी छात्रों को इस साल एडमिशन नहीं मिलेगा। विदेशी छात्रों के लिए ऑनलाइन फॉर्म फिलिंग की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। जेईई मेन्स के बाद सबसे पहले विदेशी छात्रों को मौका दिया जा रहा है। विदेशी छात्रों को सीधे ही एडवांस के लिए क्वालीफाई कर दिया जाता है। मेन्स रिजल्ट के बाद भारतीय छात्रों का रजिस्ट्रेशन शुरू होगा। विदेशी छात्रों को सुपरन्यूमरी सीटों पर ही दाखिला मिलेगा। 

भारत में सेंटर के लिए अप्लाई करने वाले सार्क देशों के छात्रों को 160 डॉलर और नॉन सार्क देशों के स्टूडेंट्स को 300 डॉलर देने होंगे। यही फीस विदेशी केंद्र लेने वाले स्टूडेंट्स के लिए भी रहेगी। इथोपिया, कोलंबो, ढाका, दुबई, काठमांडू व सिंगापुर में एडवांस का एग्जाम होगा। 

Next News

IIT JEE : 24 अप्रैल को स्टूडेंट्स की मेल पर आएगी आंसर—की, मिलेंगे रिकॉर्डेड रिस्पॉन्स

सीबीएसई की ओर से आयोजित जेईई मेन्स एग्जाम के दोनों खत्म हो चुके हैं। 10 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स ने परीक्षा ऑफलाइन और ऑनलाइन मोड में दी। अब स्टूडेंट्स

IIT JEE के 50 पूर्व छात्रों ने बनाई राजनीतिक पार्टी, 2020 के बिहार विस चुनाव में उतारेंगे कैंडिडेट

फाउंडर मेंबर अखिलेश ने कहा कि इस पार्टी की जरूरत आईआईटी में पढ़ाई के दौरान ही महसूस हुई। यहां सभी छात्रों को समान अधिकार नहीं है। 

Array ( )