MP: 12वीं में 70% लाने वाले स्टूडेंट्स का खर्चा उठाएगी सरकार- सीएम

सीएम शिवराज ने 23 हजार स्टूडेंट्स को फ्री लैपटॉप देने की भी घोषणा की है।

एजुकेशन डेस्क, भोपाल। मध्य प्रदेश बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (MPBSE) ने सोमवार को 10वीं और 12वीं के रिजल्ट घोषित कर दिए। सीएम हाउस में रिजल्ट घोषित करने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पास हुए सभी स्टूडेंट्स को शुभकामनाएं दी। इसके साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि जो भी स्टूडेंट्स, जिनके 12वीं में 70% हैं उनकी आगे की पढ़ाई का खर्चा मध्य प्रदेश सरकार उठाएगी। इसके अलावा उन्होंने 23 हजार स्टूडेंट्स को लैपटॉप देने की भी घोषणा की है।

सीएम शिवराज ने और क्या कहा?

- सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि 'इस साल 10वीं-12वीं का रिजल्ट पिछले साल के मुकाबले बेहतर आया है, इसके लिए स्टूडेंट्स, माता-पिता और टीचर्स को शुभकामनाएं।'
- उन्होंने कहा 'कई महापुरुष हुए हैं, जिन्होंने शिक्षा में तो बड़ी सफलता हासिल नहीं की, लेकिन विश्व के नायक बने, इसलिए अंक ज्यादा न भी आए, पास न भी हों तो निराश न होना और आगे बढ़ते रहना।'
- उन्होंने कहा 'हमारे कई ऐसे बच्चे हैं, जो आर्थिक रूप से सक्षम नहीं हैं, ऐसे बच्चों के लिए हमने मेधावी विद्यार्थी योजना बनाई। इसमें 12वीं में 70% अंक लाने वाले बच्चों की उच्च शिक्षा की पूरी फीस सरकार भरेगी।'
- सीएम चौहान ने कहा 'रिजल्ट में बेटियों ने इस बार भी बेटों से बाज़ी मार कर एक बार फिर ये साबित किया है कि बेटियां किसी प्रकार से बेटों से कमतर नहीं हैं। सभी लाडली बेटियों को मेरी शुभकामनाएं।'
- उन्होंने बताया कि 12वीं के बाद करियर च्वॉइस के लिए प्रदेश के हर शहर में 5 करियर काउंसलर्स को अपॉइंट किया जाएगा। 

Next News

एमपी बोर्ड: 10वीं-12वीं घोषित, यहां देखे

10वीं और 12वीं एग्जाम में करीब 19 लाख स्टूडेंट्स शामिल हुए थे।

एमपी बोर्ड: रेग्युलर और प्राइवेट स्टूडेंट्स में कौन आगे? आंकड़ों से समझिए

पिछले साल 6,90,323 स्टूडेंट्स ने प्राइवेट एग्जाम दिया था, जिसमें से 4,07,950 पास हुए थे। पिछले साल प्राइवेट स्टूडेंट्स का पासिंग परसेंटेज 27.81% रहा था।

Array ( [0] => Array ( [id] => 9 [article_id] => 1179 [file_name] => 1526282314.jpg ) [1] => Array ( [id] => 10 [article_id] => 1179 [file_name] => 15262823141.jpg ) )