JEE Mains result: नांदेड़ के पार्थ को तीसरी रैंक, बनना चाहते हैं कम्प्यूटर इंजीनियर

महाराष्ट्र के नांदेड के रहने वाल पार्थ लथुरिया कोटा में रहकर तैयारी कर रहे हैं और आईआईटी बॉम्बे से कंप्यूटर इंजीनियरिंग करना चाहते हैं। 

एजुकेशन डेस्क। सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंड्री एजुकेशन(सीबीएसई) ने जेईई मेन्स का रिजल्ट अपनी ऑफ‍िश‍ियल वेबसाइट jeemain.nic.in पर जारी कर दिया है। विजयवाड़ा के सूरज कृष्‍णा ने जेईई मेन्स टॉप किया है। उन्हें 360 में से 350 अंक मिले हैं। महाराष्ट्र के नांदेड के रहने वाल पार्थ लथुरिया ने थर्ड पोजीशन हासिल की है।

आईआईटी बॉम्बे से कंप्यूटर इंजीनियरिंग करना चाहता है पार्थ
- पार्थ के पिता नांदेड में डॉक्टर हैं और वह कोटा में रहकर आईआईटी की तैयारी कर रहे थे। उसके पिता का कहना है कि पार्थ शुरू से ही ब्राइट स्टूडेंट रहा है। वह एलेन कोटा से इंजीनियरिंग की तैयारी कर रहा था। 
- पार्थ आईआईटी बॉम्बे से कंप्यूटर इंजीनियरिंग करना चाहते हैं। पार्थ ने बताया,"आईआईटी बॉम्बे देश का सबसे प्रतिष्ठित संस्थान है। यहां पढ़ने वाले स्टूडेंट्स को बेस्ट एक्सपोजर मिलता है।"

जेईई एडवांस्ड भी क्लियर करना होगा
- जेईई मेन्स में क्वालिफाई करने वाले छात्र जेईई एडवांस्ड 2018 की परीक्षा में शामिल हो सकेंगे। 
- देश के 23 आईआईटी संस्थानों, एनआईटी और अन्य सीएफटीआई संस्थानों में एडमिशन के लिए जेईई एडवांस्ड परीक्षा के प्राप्ताकों के आधार पर प्रवेश मिलता है। 
- आईआईटी कानपुर 20 मई को आईआईटी एडवांस्ड की परीक्षा लेगा। आईआईआईटी एडवांस्ड परीक्षा पूरी तरह ऑनलाइन होगी।

10 लाख स्टूडेंट्स ने दी थी परीक्षा
- जेईई मेन्स 2018 में करीब 10.43 लाख छात्रों ने परीक्षा दी थी। जेईई मेन्स एग्जाम देने के लिए अभ्यार्थियों को दो ऑप्शन थे पहला ऑनलाइन और दूसरा ऑफलाइन। सीबीएसई ने जेईई मेन्स की आंसर की (परीक्षा में पूछे गये सवालों के जवाब) 24 अप्रैल को जारी किया था।
- यह परीक्षा हर साल ऑनलाइन और ऑफलाइन 104 शहरों के 1613 सेंटर्स पर आयोजित की जाती है। यही नहीं यह परीक्षा विदेश के 8 सेंटर्स पर आयोजित की जाती है।

Next News

IIT JEE: NIRF की रैंकिंग में IIT मद्रास है टॉप इंजीनियरिंग इंस्टीट्यूट, टॉप 10 में शामिल हैं 8 IITs

2016 में पहली बार एनआईआरएफ ने एकेडमिक इंस्टीट्यूट्स की रैंकिंग जारी की थी। 2018 की रैंकिंग के लिए 4500 इंस्टीट्यूट्स ने अपनी एंट्रीज भेजी थी। आईआईएससी

JEE Main: मेरिट में 1 से 6 रैंक तक सभी छात्रों को 350-350 अंक, पहली बार ऐसा

एडवांस्ड के लिए 2 लाख 31 हजार 24 छात्रों ने किया क्वालीफाई, लगातार चौथे साल घटा कट—ऑफ, दिव्यांगों का कट ऑफ माइनस 35 तक गिरा 

Array ( )