IIT-JEE Main का रिजल्ट डिक्लेयर, इस बार की 10 बड़ी बातों से समझें ट्रेंड्स

शुरू के 6 टॉपर्स ने 360 में से 350 नंबर हासिल किए।

एजुकेशन डेस्क। सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (CBSE) ने सोमवार देर शाम को JEE Main (पेपर-1) का रिजल्ट  डिक्लेयर कर दिया। इस साल 2,31,024 कैंडिडेट्स ने JEE Advance के लिए क्वालीफाय कर लिया है। इनमें से 1,80,331 लड़के और 50,693 लड़कियां शामिल हैं। JEE Main में आंध्र के सूरज कृष्णा ने पहली रैंक हासिल की। इसके साथ ही कई ऐसी चीजें हैं, जो पहली बार देखने को मिली।

- इस साल टॉप-10 रैंकर्स में से 5 साउथ इंडिया के रहने वाले हैं।
- शुरू के 6 टॉपर्स ने 360 में से 350 नंबर हासिल किए।
- इस बार बड़े आईटी डेवलपमेंट में गूगल ने सीधे सीबीएसई से टाई-अप करके गूगल डॉट कॉम पर फर्स्ट हेंड इंफॉर्मेशन दी जिससे स्टूडेंट को जल्दी रिजल्ट मिला और सर्वर क्रैश नहीं हुआ।
- इस साल भी टॉप-10 में कोई लड़की अपनी जगह नहीं बना सकी है।
- 2017 के  IIT-JEE रिज्ल्ट में कटऑफ में  बड़ा अंतर देखने को मिला पिछले साल की तुलना में इस बार कटऑफ कम हुआ है। पिछली साल कॉमन का कटऑफ जहां 81 था, वहीं इस साल 74 हो गया। जबकि PWD का कटऑफ -35 गया।
- ओबीसी के लिए पिछली साल 49 कटऑफ था और इस साल 45 रहा। वहीं SC के लिए इस साल 29 और ST के लिए 24 रहा, जबकि पिछली साल SC का कटऑफ 32 और ST का कटऑफ 27 था।
- पिछली साल कल्पीत वीरवाल का 360 में से 360 का रिकॉर्ड इस साल नहीं टूट पाया। आंध्र के सूरज कृष्णा ने 360 में से 350 नंबर हासिल किए। कल्पीत ने पिछली साल IIT की हिस्ट्री में पहली बार फुल मार्क्स हासिल किए थे।
- उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ से कोई भी स्टूडेंट टॉप-10 में जगह नहीं बना पाया। जबकि हरियाणा से प्रणव गोयल टॉप-5 में अपनी जगह बनाने में कामयाब रहे।
- इस बार के एग्जाम में 3 ट्रांसजेंडर ने भी पेपर दिया था, लेकिन पेपर-1 के रिजल्ट में कोई भी ट्रांसजेंडर क्लियर नहीं कर पाया।
- JEE Main एग्जाम का ये 6वां एडिशन है। इससे पहले AIEEE के जरिए इंजीनियरिंग इंस्टीट्यूट्स में एडमिशन होते थे।

Next News

JEE Main result: टॉप 20 में राजस्थान के 8 स्टूडेंट, नंबर 1 व 2 पर आंध्र ने बाजी मारी

जेईई मेन के नतीजों के अनुसार टॉप 20 में आंध्र प्रदेश के 4 स्टूडेंट जबकि राजस्थान के कुल 8 शामिल हैं। नंबर 1 और 2 पोजिशन पर आंध्र सूरज कृष्णा और वीवीवी

IIT JEE: NIRF की रैंकिंग में IIT मद्रास है टॉप इंजीनियरिंग इंस्टीट्यूट, टॉप 10 में शामिल हैं 8 IITs

2016 में पहली बार एनआईआरएफ ने एकेडमिक इंस्टीट्यूट्स की रैंकिंग जारी की थी। 2018 की रैंकिंग के लिए 4500 इंस्टीट्यूट्स ने अपनी एंट्रीज भेजी थी। आईआईएससी

Array ( )