JEE Main Result 2018 : आज के अंकों से ऐसे तय होगी आपकी रैंकिंग 

जेईई मेन के रिजल्ट दोपहर 1 बजे तक जारी कर दिए जाएंगे। इस रिजल्ट के आधार पर रैंक तय होगी। जो यह तय करेगी कि स्टूडेंट जेईई एडवांस्ड के लिए एप्लिकेबल है या नहीं।

एजुकेशन डेस्क । सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जाम (JEE Main) के नतीजे आज जारी करेगा। जेईई मेन्स पेपर—1 में आए नंबर्स के आधार पर जेईई के लिए ऑल इंडिया रैंक जारी की जाएगी। जिसके बाद ही स्टूडेंट्स जेईई एडवांस की परीक्षा में शामिल हो सकेंगे। इस साल ऑफलाइन एग्जाम 8 अप्रैल, 2018 को और ऑनलाइन एग्जाम का आयोजन 15-16 अप्रैल को हुआ था। सीबीएसई देश भर के अलग-अलग टेक्निकल इंस्टीट्यूट्स में एडमिशन देने के लिए जेईई का आयोजन करता है। 

रिजल्ट देखने के लिए यहां क्लिक करें

ऐसे तैयार होती है रैंक
जेईई मेन के अंकों के आधार पर इसकी रैंक तय होती। जितने अधिक अंक होंगे उतनी बेहतर रैंक तय होगी। नीचे दी गई टेबल से इसे समझा जा सकता है।

Total Marks (JEE Main)     

From Rank – To Rank

1 to 20

1093115 - 1121966

21 to 40

844546 - 1093113

41 to 60

463444 - 844544

61 to 80

237035 - 463443

81 to 100

125723 - 237034

101 to 120

67651 - 125722

121 to 140

35929 - 67649

141 to 160

18372 - 35928

161 to 180

8998 - 18371

181 to 200

4164 - 8997

201 to 220

1756 - 4163

221 to 240

707 - 1755

241 to 260

245 - 706

261 to 280

84 - 244

281 to 300

10 - 83

301 to 326

1 - 9

 

आज के रिजल्ट से ये होगा बदलाव 
1. जेईई मेन का रिजल्ट आॅफिशियल वेबसाइट jeemain.nic.in पर जारी किया जाएगा। इसे सीबीएसई की वेबसाइट cbseresults.nic.in पर भी देखा जा सकता है। 

2.जेईई मेन्स पेपर-1 में आए नंबर्स के आधार पर जेईई के लिए ऑल इंडिया रैंक जारी की जाएगी। जिसके बाद ही स्टूडेंट्स जेईई एडवांस की परीक्षा में शामिल हो सकेंगे। 

3. जेईई एडवांस्ड एग्जाम होने के बाद बोर्ड काउंसलिंग शेड्यूल जारी करेगा। एनआईटी और आईआईटी में होने वाले एडमिशन की काउंसलिंग जॉइंट सीट एलोकेशन अथॉरिटी (JoSAA) और सेंट्रल सीट एलोकेशन बोर्ड (CSAB) करेगा। 

4. जेईई मेन रिजल्ट के आधार पर तय होगा कि स्टूडेंट्स जेईई एडवांस्ड के लिए एप्लिकेबल है या नहीं। ऐसे स्टूडेंट जो जेईई मेन क्वालीफाई कर जाते हैं उन्हें एडवांस्ड के लिए आॅनलाइन अप्लाय करना होगा। इसके लिए आॅफिशियल वेबसाइट jeeadv.ac.in पर 2 मई से अप्लाय कर सकेंगे। 

5. जेईई मेन की रैंक के आधार पर स्टूडेंट को आईआईटी में एडमिशन नहीं मिलेगा। जेईई एडवांस्ड में मिली रैंक के आधार पर पर आईआईटी में एडमिशन दिया जाएगा। हालांकि जेईई मेन की रैंक एनआईटी, आईआईटी और स्टेट इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन में हेल्प करेगी।


2017 में एचआरडी मिनिस्ट्री ने ये किए थे बदलाव
मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने जेईई पैटर्न में वर्ष 2017 से दो बदलाव किए थे। 
- पहला बदलाव : अब जेईई मेन परीक्षा में रैंक्स कैल्कुलेट करने में 12वीं कक्षा के अंक को वेटेज नहीं दिया जाएगा। 
- दूसरा बदलाव: जेईई एडवांस्ड 2018 रैंक्स के आधार पर एडमिशन लेने जा रहे आवेदकों के 12वीं कक्षा की परीक्षा में न्यूनतम 75 प्रतिशत अंक होने चाहिए या आवेदक को 12वीं कक्षा के परीक्षा परिणामों में टॉप 20 पर्सेंटाइल में शामिल होना होगा। एससी/एसटी छात्रों के लिए 12वीं में 65 प्रतिशत अंक होना अनिवार्य है। सभी योग्य आवेदकों को अपनी 12वीं कक्षा की मार्कशीट काउंसलिंग या एडमिशन के समय रिपोर्टिंग सेंटर्स पर दिखानी होगी। इसके बिना आवेदकों का एडमिशन नहीं होगा।
 

Next News

JEE ADVANCE 2018 : एग्जाम में अच्छा स्कोर करने के लिए अपनाएं ये टिप्स

मेन्स क्वॉलिफाई करने वाले JEE Advanced 2018 में शामिल होंगे। JEE Advanced 2018 परीक्षा 20 मई को होगी । एक्सपर्ट्स की मानें तो इस साल कटऑफ 95 से 105 के

JEE Main: किसी ने IPL किया मिस, कोई पैरेंट्स के साथ कर रहा है टाइम स्पेंड

एक फैन का कहना है कि एग्जाम के रिजल्ट के टेंशन के कारण वे KKR का मैच ठीक तरह से एन्जॉय नहीं कर पाए।

Array ( )