JEE Main 2018 : इस बार कितना रह सकता है कट ऑफ? एक्सपर्ट से जानिए

JEE Main का कटऑफ इस बार 75 से 80 के बीच रह सकता है। ऐसे में 15 हजार तक की रैंक हासिल करने वाले स्टूडेंट्स को आसानी से टॉप एनआईटी (NIT) मिल जाना चाहिए।

एजुकेशन डेस्क। JEE Main का कटऑफ इस बार 75 से 80 के बीच रह सकता है। ऐसे में 15 हजार तक की रैंक हासिल करने वाले स्टूडेंट्स को आसानी से टॉप एनआईटी (NIT) मिल जाना चाहिए। रविवार 8 अप्रैल को देशभर में JEE Main का ऑफलाइन एग्जाम हुआ था। वहीं 15 व 16 अप्रैल को जेईई मेन का ऑनलाइन एग्जाम हुआ। उसमें आए सवालों के आधार पर एक्सपर्ट ने यह अनुमान लगाया है कि इस बार जेईई मेन का कटऑफ 75 से 80 तक हो सकता है। सुपर-30 के संस्थापक आनंद कुमार का भी यही मानना है। गौरतलब है कि 2017 में जनरल की कटऑफ 81, ओबीसी की 49, एससी की 32 और एसटी की 27 थी। 24 से 27 अप्रैल तक स्टूडेंट्स के रिस्पॉन्स और आंसर Key जारी की जाएगी।

एक्सपर्ट एनालिसिस - जेईई प्रिपरेशन एक्सपर्ट अभिषेक पाण्डेय और शैलेन्द्र रावत से हमने पेपर का एनालिसिस करवाया। एक्सपर्ट एनालिसिस इस तरह रहा ।

  • एक्सपर्ट एनालिसिस के मुताबिक, 168 अंक के सवाल आसान थे। 
  • 160 अंक के मध्यम व 32 अंक के सवाल मुश्किल थे। 
  • यानी, आसान सवालों को हल करके भी स्टूडेंट्स एडवांस दे सकेंगे।

क्या कहते हैं एक्सपर्ट?

  • जेईई प्रिपरेशन एक्सपर्ट अभिषेक पाण्डेय कहते हैं कि इस बार मेन्स में 50% सवाल एनसीईआरटी से पूछे गए थे। इससे एवरेज स्टूडेंट्स भी अच्छा परफॉर्म कर पाएंगे।
  • इसी तरह जेईई प्रिपरेशन एक्सपर्ट शैलेन्द्र रावत कहते हैं कि एडवांस में अपीयर होने वाले स्टूडेंट्स की संख्या चार साल में डेढ़ लाख से बढ़ाकर 2.24 लाख कर दी गई है। यही वजह है कि कटऑफ में भी गिरावट आ रही है।
Next News

JEE Main 2018 Result : 30 अप्रैल को आएगा रिजल्ट, ऐसे कर सकते हैं चेक

परीक्षा के नतीजे आप CBSE JEE Main 2018 के आधिकारिक वेबसाइट पर देख सकेंगे। इसके लिए आपको jeemain.nic.in पर लॉगइन करना होगा।

IIT-JEE : 31 मई को डिक्लेयर हो सकती है एआईआर, एडवांस का एग्जाम 20 मई काे

दो फेज के बाद मई में ही रिजल्ट और एआईआर डिक्लेयर होगी। एडमिशन के लिए जून से काउंसिलिंग शुरू हो सकती है।

Array ( )