Facts: IIT के पहले बैच में सिर्फ लड़के थे, रूड़की में चलता है सबसे तेज इंटरनेट

IITs में एडमिशन लेने वाले पहले बैच में सिर्फ लड़के ही थी। IIT रूड़की की इंटरनेट स्पीड भारत में सबसे ज्यादा है।

एजुकेशन डेस्क। सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (CBSE) ने सोमवार को JEE Main का रिजल्ट डिक्लेयर कर दिया। इसके बाद अब 20 मई को JEE Advance का एग्जाम होगा, जिसके लिए रजिस्ट्रेशन 2 मई से शुरू होंगे। इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने वाले हर स्टूडेंट का सपना होता है IIT-JEE क्लियर करना। हालांकि कुछ लोग इसमें कामयाब हो जाते हैं, तो कुछ नहीं हो पाते। IIT-JEE एग्जाम देने वाला हर स्टूडेंट इसको लेकर एक्साइटेड रहता है, लेकिन इसके बावजूद ज्यादातर लोगों को IIT-JEE से जुड़ी कुछ जरूरी बातें नहीं पता होती हैं। इसलिए bhaskareducation.com आपको बताने जा रहा है IIT-JEE से जुड़े कुछ इंटरेस्टिंग फैक्टस, जो आप शायद ही जानते हों।

IIT-JEE से जुड़े कुछ इंटरेस्टिंग फैक्ट्स

- IITs में एडमिशन लेने वाले पहले बैच में सिर्फ लड़के ही थे। 1981 में पहली बार किसी महिला ने IIT से ग्रेजुएशन किया था। इसी साल IIT बॉम्बे में पहली बार मैकेनिकल ब्रांच में एक गर्ल कैंडिडेट ने एडमिशन लिया था।
- हर साल भारत सरकार की तरफ से IITs को ग्रांट मिलती है। इसके साथ ही यहां से पासआउट स्टूडेंट्स और एकेडमिक फीस के जरिए फंडिंग होती है।
- 2005 में यूएस कॉन्ग्रेंस ने एक रिसोल्यूशन पास किया था, जिसमें रिसर्च और इनोवेशन की फील्ड में IITans के योगदान की तारीफ की गई थी। ये पहली विदेशी यूनिवर्सिटीज़ थी, जिसके लिए अमेरिकी कॉन्ग्रेंस ने रिसोल्यूशन पास किया था।
- IIT रूड़की के बारे में कहा जाता है कि इसके कैंपस में इंटरनेट स्पीड भारत में सबसे ज्यादा है। जानकारी के मुताबिक, भारत में इंटरनेट स्पीड से करीब 6 गुना ज्यादा स्पीड IIT रूड़की में है।
- IIT दिल्ली से किरण बेदी, चेतन भगत, सचिन बंसल और बिन्नी बंसल पढ़े हुए हैं। फ्लिपकार्ट के मालिक सचिन और बिन्नी बंसल हर साल IITs से कई स्टूडेंट्स को अपनी कंपनी में जॉब देते हैं।
- IIT खड़गपुर में एक 'बॉम्ब हाउस' नाम की जगह है, जो कैंपस में ही स्थित है। इस बॉम्ब हाउस का इस्तेमाल अंग्रेजों ने वर्ल्ड वॉर के समय बॉम्ब को स्टोर करने के लिए बनाया था। वर्तमान में इस जगह पर स्टाफ क्वार्टर मौजूद है।

Next News

JEE Main 2018 : जानें सीट्स, कट-आॅफ, रैंकिंग कैल्कुलेशन और इंट्रेस्टिंग फैक्ट

जानिए आईआईटी जेईई 2018 से जुड़े कई सवालों के जवाब और कुछ एंट्रेस्टिंग फैक्ट  जानना बेहद जरूरी है। 

IIT JEE: पैटर्न डिफरेंस के चलते मेन के टॉपर एडवांस में नहीं कर पाते टॉप

एडवांस में बेस्ट रैंकिंग लाने वाले स्टूडेंट्स शुरू से ही एडवांस लेवल की ही तैयारी करते हैं, जिसकी वजह से उनकी AIR बेहतर बनती है। 

Array ( )