कम्युनिकेशन स्किल्स और डिजिटल लिटरेसी की बढ़ी डिमांड, जॉब में मिलेगा फायदा

जॉब पाने में कम्युनिकेशन स्किल्स निभाती है अहम रोल

अगर आप जॉब ऑफर के लिए सिर्फ अपनी डिग्री और अनुभव पर निर्भर हैं तो आपको एक बार फिर से सोचना चाहिए। कंपनियां अब अंतरराष्ट्रीय बिजनेस के चलते इंटरपर्सनल कम्यूनिकेशन पर खासा जोर दे रही हैं। ऐसे में कम्यूनिकेशन स्किल की कमी आपको जॉब की दौड़ से बाहर कर सकती है। लिंक्डइन ने भी अपनी ताजा रिसर्च में पाया है कि इंटरपर्सनल स्किल्स की कमी उम्मीदवारों में विशेष रूप से बढ़ रही है। जहां कम्यूनिकेशन एक स्किल गैप के रूप में सामने आया है। लिंक्डइन सीईओ जेफ वीनर के मुताबिक यह स्किल खासतौर पर महत्वपूर्ण है, विशेष रूप से सेल्स डेवलपमेंट और प्रोजेक्ट मैनेजमेंट में। रिसर्च में पाया गया है कि मैनेजर्स किसी भी उम्मीदवार को परखने में उसके कम्यूनिकेशन और एनालिटिकल स्किल्स पर विशेष रूप से ध्यान देते हैं।

जॉब प्लेटफॉर्म मॉन्स्टर ने भी अपनी रिसर्च में पाया कि कम्यूनिकेशन सबसे ज्यादा डिमांड वाली सॉफ्ट स्किल्स में से एक है। बिलिनेयर रिचर्ड ब्रैनसन भी मजबूत इंटरपर्सनल स्किल्स की अहमियत पर जोर देते हुए कहते हैं, ये स्किल्स आपको करियर की शुरुआत में ही सीख लेनी चाहिए। सफल होने के लिए जो महत्वपूर्ण स्किल्स मुझे सीखनी थीं वे पीपल स्किल्स ही थीं। इसके साथ ही उम्मीदवारों में डिजिटल लिटरेसी की कमी भी लिंक्डइन रिसर्च में पाई गई। जो कि मौजूदा दौर की पसंदीदा स्किल है। एक्सपर्ट की सलाह है कि अगर आप नौकरी बदलते हैं तो भी इन स्किल्स की मजबूती आपको हमेशा काम आएगी। 

Next News

अब गूगल पर ढूंढें नौकरी, जॉब नियर मी फीचर लॉन्च, लोकेशन से वेकेंसी देख सकेंगे 

गूगल का दावा है कि शुरुआती दौर में ही यहां 90 हजार एम्प्लॉयर्स और इंडस्ट्रीज की 1 मिलियन से भी ज्यादा जॉब्स लिस्ट की जा चुकी हैं।

अमेरिका: जॉब बढने से बढ़ा कॉम्पिटीशन, सैलरी भी मिल रही ज्यादा

अमेरिका की बेरोजगारी दर 3.9 फीसदी रही, जो वर्ष 2000 के बाद पहली बार रिकॉर्ड निचले स्तर पर है।

Array ( )