IIT-JEE Advanced: पेपर रहा टफ, 17% कम रहेगा कटऑफ

नेगेटिव मार्किंग स्कीम के कारण फ़र्स्ट पेपर के बाद 17 हजार स्टूडेंट्स ने पेपर-2 नहीं दिया था।

एजुकेशन डेस्क, जयपुर। जेईई एडवांस ऑनलाइन रविवार को हुए पेपर में टेक्नीकल एरर और नेगेटिव मार्किंग स्कीम के कारण स्टूडेंट्स ने फ़र्स्ट पेपर के बाद एडवांस नहीं देने का फैसला किया। जेईई मेन से जेईई एडवांस के लिए क्वालिफाई करने वाले स्टूडेंट्स में 1.60 ने ही रजिस्ट्रेशन करवाया। जेईई एडवांस बीते रविवार को आईआईटी कानपुर ने कंडक्ट करवाया। इसमें करीब 17 हजार स्टूडेंट्स ने पहले पेपर के बाद दूसरा पेपर नहीं देने का फैसला किया। गौरतलब है कि जेईई एडवांस में दो सेशन में दो पेपर कंडक्ट होते हैं। 

17 हजार स्टूडेंट्स नें नहीं दिया पेपर-2
- एक्सपर्ट का कहना है पहले पेपर में मार्किंग स्कीम और मैथ्स टफ होने के कारण स्टूडेंट्स ने दूसरा पेपर नहीं दिया।
- जेईई मेन से 2.30 लाख बच्चों ने एडवांस के लिए क्वालिफाई किया।
- इसमें से करीब 70 हजार स्टूडेंट्स ने एडवांस के लिए रजिस्ट्रेशन नहीं करवाया था।
- इसके बाद 17 हजार स्टूडेंट्स एडवांस के पहले पेपर के बाद शाम को हुए पेपर को नहीं देकर जेईई एडवांस से क्विट कर दिया। 

टेक्नीकल एरर ने किया परेशान 
एक्सपर्ट का कहना है कि 17 हजार बच्चों का सैकंड पेपर छोड़ने के तीन कारण है।
- पहला कुछ सेंटर्स पर टेक्नीकल एरर आने से वे परेशान हुए। इससे उनका पहला पेपर अच्छा नहीं गया। कुछ स्टूडेंट्स के कम्प्यूटर स्क्रीन पर सवाल सही तरीके से डिसप्ले नहीं हो रहे थे।
- दूसरा कारण मैथ्स बहुत टफ थी जिसको एवरेज स्टूडेंट्स कर नहीं पाए।
- तीसरा मुख्य कारण है मार्किंग स्कीम का क्लियर नहीं हो पाना। इंटीजर सवालों के आंसर का राउंड फिगर में देना या डेसिमल दो प्लेसेज में देने के कारण स्टूडेंट्स कंफ्यूज हो रहे। गलत करने पर उनको दो मार्क्स की नेगेटिव मार्किंग थी।
हालांकि मंगलवार को आईआईटी ने नोटिफिकेशन जारी करके मार्किंग स्कीम को क्लियर कर दिया है। इंटीजर सवालों के आंसर को राउंड वाले और डेसिमल दोनों ही सही माने जाएंगे। यानी की अगर आंसर 6.99 आ रहा है तो इसे राउंड फिगर में लिखना भी सही है और डेसिमल में लिखना भी सही है। 

कटऑफ रहेगी कम 
सवालों के लेवल को देखते हुए इस बार कटऑफ पिछले साल के मुकाबले 17 परसेंट कम रहेगी। पिछले साल 250 मार्क्स की कटऑफ रही। इस बार 210 तक रहने की उम्मीद है, क्योंकि पेपर ओवरऑल टफ रहा है। 

Next News

IIT-JEE Advanced: 5,625 कैंडिडेट्स एब्सेंट, एक सीट पर 14 दावेदार

अगर जेईई मेन क्वालिफाई करने सभी कैंडीडेट्स एडवांस के दोनों पेपर्स में अपीयर होते, तो एक सीट पर 21 दावेदार होते।

IIT-JEE Adavanced:गर्ल्स के लिए बढ़ाईं 779 सीट्स से गिरेगा कटऑफ

128 से नीचे जा सकता है जनरल का कटऑफ, आईआईटी कानपुर ने इंटीजर टाइप सवालों के संबंध में जारी किया क्लेरीफिकेशन, 25 को मिलेगी ORS शीट

Array ( )