अचीवर्स को सफल बनाने वाली पांच आदतें 

नॉलेज हासिल करने और काम के प्रति समर्पण से जुड़ी ऐसी आदतें सभी कामयाब हस्तियों की जिंदगी का हिस्सा हैं, जो उन्हें सफल बनाने में भी अहम भूमिका निभाती हैं।

करियर डेस्क । अमेरिकी बिजनेसमैन वॉरेन बफे अपने दिन का 80 प्रतिशत समय पढ़ने में बिताते हैं। भारतीय उद्योगपति रतन टाटा सुबह जल्दी उठकर अपने ई-मेल्स चेक करते हैं और दिन का शेड्युल तैयार करते हैं। एप्पल सीईओ टिम कुक भी सुबह साढ़े चार बजे उठकर ईमेल्स का जवाब देते हैं। नॉलेज हासिल करने और काम के प्रति समर्पण से जुड़ी ऐसी आदतें सभी कामयाब हस्तियों की जिंदगी का हिस्सा हैं, जो उन्हें सफल बनाने में भी अहम भूमिका निभाती हैं। ऐसी ही कुछ आदतों को अपनाकर आप भी सफलता का रुख कर सकते हैं-


टू डू लिस्ट

लेखक थॉमस जे स्टैनले के रिसर्च पेपर के अनुसार, दुनिया के सबसे धनी व्यक्तियों में से 81 फीसदी लोग अपनी टू-डू लिस्ट बनाकर रखते हैं। वे नियमित रूप से उस लिस्ट में पूरे हो चुके कामों को हटाकर नए काम जोड़ते रहते हैं। वे इस लिस्ट को अपनी मोबाइल स्क्रीन पर रखते हैं ताकि वह हमेशा उनके सामने रहे। 


किताबें पढ़ना

सफलतम लोग शरीर की तरह दिमाग की भी कसरत करते हैं। वे इसके लिए नियमित रूप से किताबें पढ़ते हैं। एक अध्ययन के अनुसार, इनमें से 85 फीसदी से ज्यादा लोग महीने में दो से ज्यादा किताबें पढ़ते हैं। इसके अलावा वे नॉलेज बढ़ाने के लिए रिपोर्ट्स, जर्नल्स, मैगजीन्स आदि भी पढ़ते हैं। 


नेटवर्क

विश्व के कामयाब लोग कभी भी अकेले काम करने में विश्वास नहीं रखते। वे ज्यादा से ज्यादा लोगों से मिलने, बातचीत करने में रुचि लेते हैं। वे अपनी पेशेवर जिंदगी में बड़ी संख्या में लोगों से संवाद करते हैं। 


आय के कई स्रोत 

ज्यादातर सफल व्यक्ति अपनी आय के लिए किसी एक सोर्स के बजाय, कई सोर्सेज विकसित करते हैं। इसके लिए वे समय-समय पर कुछ नया और क्रिएटिव सीखते रहते हैं। साथ ही अपनी स्किल्स को भी अपग्रेड करते रहते हैं। इससे आय के नए माध्यम भी तैयार होते हैं। 


टाइम मैनेजमेंट 

वे दिन के उन सबसे महत्वपूर्ण घंटों की पहचान करते हैं जब वे सबसे ज्यादा काम कर सकते हैं। इसके अलावा वे ऐसे कामों में कभी भी समय खराब नहीं करते जो उन्हें कोई परिणाम न देते हों। वे सभी काम प्लानिंग के साथ करते हैं और टाइम मैनेजमेंट पर खास ध्यान देते हैं। 
 

Next News

जॉब सर्च में काम आएंगे सोशल मीडिया हैशटैग

पहले फोटो और पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाने के लिए हैशटैग्स का इस्तेमाल किया जाता था, लेकिन अब जॉब तलाशने वाले उम्मीदवार और रिक्रूटर दोनों

बेहतर स्पीकिंग स्किल्स दे सकती हैं तरक्की

एक अच्छे स्पीकर का विश्वसनीय होना जरूरी है। जिसके लिए मजबूत स्पीकिंग स्किल्स के साथ-साथ उन गलत आदतों पर भी ध्यान देना होगा, जो आपके संवाद को खराब कर सकती

Array ( )