NEET 2018: एग्जाम शुरू,13 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स हुए शामिल

परिक्षा खत्म होने के कुछ समय बाद ही जारी होगी आंसर-की

एजुकेशन डेस्क। नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (NEET) का एग्जाम शुरु हो गया है । ये एग्जाम सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (CBSE) की तरफ से कंडक्ट कराया जाता है और इसके जरिए स्टूडेंट्स को मेडिकल कोर्सेस (MBBS & BDS) में एडमिशन मिलता है। इस साल 13 लाख से ज्यादा कैंडिडेट्स इस एग्जाम को दे रहे हैं। 

देशभर में 2.225 सेंटर्स ेमें होगा एग्जाम

- आज होने जा रहे  NEET एग्जाम में 13 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स हिस्सा ले रहे हैं। इसमें 7,46,076 फीमेल कैंडिडेट्स और 5,80,648 कैंडिडेट्स शामिल हैं। जबकि एक ट्रांसजेंडर कैंडिडेट भी NEET एग्जाम दे रहा है।

- इस एग्जाम के लिए देशभर के 136 शहरों में 2,225 एग्जाम सेंटर्स बनाए गए हैं। बता दें कि एग्जाम का रिजल्ट 5 जून तक डिक्लेयर किया जा सकता है और इसी के बाद आगे की प्रोसेस शुरू होगी।

हर 100 परीक्षार्थी पर सिर्फ 4 सीटें हैं

देश के विभिन्न कॉलेजों में एमबीबीएस और बीडीएस की कुल सीट 66,000 है । 13.36 लाख स्टूडेंट्स नीट का फॉर्म फिलअप किया है यानी कि हर 100 विद्यार्थी पर लगभग 4 सीटें हैं ।

इस साल से पेपर का सिर्फ एक सेट होगा

- इस साल सीबीएसई ने उच्चतम न्यायालय को बताया है कि एमबीबीएस और बीडीएस पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए आयोजित की जाने वाली नीट 2018 में शामिल होने वाले छात्रों के लिए इस साल से प्रश्न-पत्र का सिर्फ एक सेट तैयार किया जाएगा।  
- सीबीएसई ने न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा और न्यायमूर्ति एफ ए नजीर की पीठ को बताया कि पहले छात्रों को हिंदी एवं अंग्रेजी सहित 10 भाषाओं 'नीट में शामिल होने की अनुमति होती थी। 

Next News

दिल्ली हाईकोर्ट का फैसला : ओपन लर्निंग स्कूल वाले स्टूडेंट्स भी दे सकेंगे Neet का एग्जाम

दिल्ली हाईकोर्ट ने NEET-2018 में आवेदन करने वाले सभी स्टूडेंट्स को एग्जाम देने की अनुमति दे दी है। हालांकि नीट को लेकर फैसले को अभी आरक्षित रखा गया है।

AIIMS: 26-27 मई को एग्जाम, पेन-पेपर-बॉटल लाने पर भी मनाही

एग्जाम से पहले AIIMS ने अखबारों में एक विज्ञापन के जरिए स्टूडेंट्स के लिए कुछ महत्वपूर्ण सलाह या गाइडलांस जारी की है।

Array ( )