RRB 2018 Exam: ऑनलाइन मॉक टेस्ट से एग्जाम क्रैक करने में मिलेगी मदद

रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड (RRB) रेल इतिहास की सबसे बड़ी एग्जाम लेने जा रहा है। इसके तहत रेलवे में ग्रुप सी और ग्रुप डी के करीब 90 हजार पदों पर भर्ती की जाएगी। यह एग्जाम मई के अंतिम सप्ताह में होने की उम्मीद है।

करियर डेस्क । रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड (RRB) रेल इतिहास की सबसे बड़ी एग्जाम लेने जा रहा है। इसके तहत रेलवे में ग्रुप सी और ग्रुप डी के करीब 90 हजार पदों पर भर्ती की जाएगी। यह एग्जाम मई के अंतिम सप्ताह में होने की उम्मीद है। चूंकि रेलवे की यह एग्जाम काफी अरसे के बाद हो रही है। इसके बाद कब होगी, इसका कोई भरोसा नहीं है। इसलिए इस एग्जाम के लिए अप्लाई करने वाले सीरियस कैंडिडेट्स इस मौके को खोना नहीं चाहते और हर हाल में इसे क्रैक करना चाहते हैं। इस एग्जाम को क्रैक करने में ऑनलाइन मॉक टेस्ट से भी काफी मदद मिल सकती है। गौरतलब है कि रेलवे की यह एग्जाम भी ऑनलाइन ही होगी।

मॉक टेस्ट के फायदे

एग्जाम का अनुभव
अगर मॉक टेस्ट किसी अच्छे एक्सपर्ट ने तैयार किए हैं तो वह इस बात का जरूर ध्यान रखता है कि वह ठीक-ठीक उसी तरह से तैयार किए जाएं, जैसा कि असली एग्जाम में पेपर्स आते हैं। इससे कैंडिडेट्स को असली एग्जाम के पहले एक तरह से रिहर्सल करने का मौका मिल जाता है।

पैटर्न को समझने में आसानी 
कॉम्पिटिटिव एग्जाम में अगर आपने पैटर्न को समझ लिया तो उसे क्रैक करना आसान हो जाता है। मॉक टेस्ट चूंकि उसी तर्ज पर बनाए जाते हैं, जैसा कि पेपर आने वाला है। इससे कैंडिडेट्स को पैटर्न को समझने में आसानी होती है।

टाइम मैनेजमेंट हाेता है बेहतर
मॉक टेस्ट से कैंडिडेट्स को यह समझ में आ जाता है कि उन्हें असली एग्जाम में भी सवालों को सॉल्व करने में कितना वक्त मिलेगा। इसके जरिए उन्हें इस बात का आइडिया लग जाएगा कि उन्हें किन सवालों में ज्यादा वक्त लगाना है, किनमें कम और किन सवालों में बिल्कुल भी नहीं। आखिर हर कॉम्पिटिटिव एग्जाम में स्पीड मायने रखती है।

स्ट्रेटजी बनाने में मिलती है मदद
चूंकि मॉक टेस्ट से आपको पैटर्न का पता चल जाता है और साथ ही इस बात का भी आइडिया लग जाता है कि आपको किन सवालों को सॉल्व करने में कितना वक्त लगेगा, तो इससे आप असली एग्जाम के लिए अभी से बेहतर स्ट्रेटजी बना सकेंगे।

प्रोग्रेस को ट्रैक कर सकते हैं 
मॉक टेस्ट से आपको तुरंत अपना इवैल्यूशन करने में आसानी होती है। इससे कैंडिडेट्स अपनी एग्जाम की तैयार की प्रोग्रेस को ट्रैक कर सकते हैं। इससे कैंडिडेट्स को यह पता चलता रहता है कि उसकी तैयारियों में कहां गैप है और उसके हिसाब से वह उसमें सुधार कर सकता है।

Next News

रेलवे एग्जाम : रिजनिंग के सवाल जल्दी सॉल्व करने में ये टिप्स करेंगी मदद

रेलवे में 90 हजार से भी ज्यादा पदों पर भर्तियां की जा रही हैं। सबसे ज्यादा करीब 62 हजार पद ग्रुप डी लेवल के लिए हैं। बाकी के पद टेक्नीशियन और असिस्टेंट

RRB Group D:  62 हजार पोस्ट निकली पहली बार, रेलवे इतिहास में सबसे बड़ी भर्ती

रेलवे अपने इतिहास में सबसे बड़ी एग्जाम लेने जा रहा है। इसमें 90 हजार से भी ज्यादा पदों पर भर्तियां की जाएंगी। सबसे ज्यादा करीब 62 हजार पद ग्रुप डी लेवल

Array ( )