10th या 12th के बाद तुरंत करें ये कोर्स, कॅरियर को नई ऊंचाईयां देने में मिलेगी मदद

वोकेशनल कोर्स करने के बाद बेहतर जॉब अपॉर्च्युनिटी हासिल कर सकते हैं। इसके लिए लोकल और नेशनल लेवल इंस्टीट्यूट्स डिस्टेंस लर्निंग कोर्स भी रन करते हैं।

एजुकेशन डेस्क। आज के दौर में युवाओं में वोकेशनल कोर्स का ट्रेंड बढ़ रहा है। यूथ ट्रेडिशनल कोर्स की बजाए अच्छे जॉब के लिए वोकेशनल कोर्स भी कर रहे हैं जो उनके कॅरियर को नई दिशा दे सकते हैं। बोर्ड एग्जाम्स आेवर होने के बाद स्टूडेंट्स यह सोचना शुरू कर देते हैं कि 10th और 12th के बाद वे क्या करें जिससे अच्छे कॅरियर के साथ अर्निंग भी अच्छी हो। वोकेशनल कोर्स इस सोच का बेहतर ऑप्शन हैं। स्पेशल फील्ड में ट्रेनिंग लेने से जॉब मिलने में आसानी रहती है। इन कोर्सेस को 10th और 12th के बाद किया जा सकता है। 

कॅरियर इन फॉरेन लैंगवेज 

किसी भी फॉरेन लैंग्वेज को सिलेक्ट कर कॅरियर को मूव कर सकते हैं। फॉरेन लैंग्वेज सीखने के बाद टूर ऑपरेटर, टीचिंग और ट्रांसलेटर के तौर पर काम कर सकते हैं। देश में कई मल्टीनेशनल कंपनियां हैं जिससे फॉरेन लेंग्वेज के जानकारों की मांग बढ़ रही है। फॉरेन लैंग्वेज का कोर्स दिल्ली यूनिवर्सिटी सहित कई जगहों पर होता है। 

होटल मैनेजमेंट डिग्री

खाना बनाने में दिलचस्पी है तो होटल मैनेजमेंट का कोर्स कर सकते हैं। आज कई कॉलेज इसका कोर्स उपलब्ध करवा रहे हैं। होटल मैनेजमेंट में शेफ बनने के अलावा भी कई आॅप्शंस मौजूद हैं। यह कोर्स करने के बाद आप बड़े-बड़े होटलों, क्रूज और रेस्त्रां में नियुक्त किए जाते हैं। इतना ही नहीं बल्कि आप अपना बिजनेस भी शुरू कर सकते हैं।

ट्रेवल एंड टूरिज्म

फॉरेन करंसी अर्न करने का यह बेहतर जरिया है। देश में हर साल बड़ी तादाद में फाॅरेन टूरिस्ट्स आते हैं। इस फील्ड में ढेर पॉसिबिलिटीज हैं। इस इंडस्ट्री में गवर्नमेंट टूरिज्म डिपार्टमेंट, इमिग्रेशन एंड कस्टम, ट्रेवल एजेंसी, एयरलाइंस, टूर ऑपरेटर और होटल जैसी सर्विस शामिल हैं।

फुटवियर डिजाइनिंग

लैदर और क्लोदिंग के साथ ही प्लास्टिक, जूट, रबर के फुटवियर बन रहे हैं जिनकी मार्केट में डिमांड ज्यादा है। फुटवियर इंडस्ट्री लगातार बढ़ रही है। कई इंटरनेशनल कंपनियां भी अपने फुटवियर प्रोडक्शन और एक्सपोर्ट को बढ़ा रही हैं। यह कोर्स 12th के बाद 1 से 3 साल के बीच कर सकते हैं।

आईटीआई

इसमें एक और दो साल के कई कोर्स होते हैं। इनमें पेंटर, ड्राफ्टमैन, मशीनिस्ट, इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी समेत कई तरह के ट्रेंड में वोकेशनल कोर्स आप कर सकते हैं। आईटीआई होल्डर्स की मार्केट में काफी मांग है। इनमें से कोई भी कोर्स अपनी रूचि के अनुसार करके आप आसानी से अच्छी जॉब पा सकते हैं।

Next News

10th से ही करें इन एग्जाम्स का प्रिपरेशन, सबजेक्ट सिलेक्शन से लेकर कॅरियर तक होगी आसानी

10th के स्टूडेंट्स स्कूल के साथ-साथ फ्यूचर एग्जाम की तैयारी भी करते हैं तो फाइनल एग्जाम तक उन्हें सिर्फ रिवीजन ही करना पड़ेगा। इन एग्जाम्स की अनिश्चितता

10th के बाद रिजल्ट आने से पहले ही फेवरिट स्ट्रीम में होगा एडमिशन

इस प्रोसेस से स्टूडेंट्स को यह फायदा भी होगा कि अगर वे किसी स्ट्रीम को नहीं समझ पाते तो रिजल्ट आने के बाद उसे चेंज कर सकेंगे।

Array ( )