वह काम करके दिखाइए जिसके लिए आपको ट्रेनिंग नहीं मिली

जो आप हैं आपको उससे हमेशा एक कदम आगे चलना है। आपको खुद के काम से कभी संतुष्ट नहीं होना चाहिए। आपको निरंतर आगे बढ़ते रहना है। इसके लिए आपको अलग तरह से सोचना होगा।

करियर डेस्क । अक्सर हम अपने इतिहास से सीखते हैं लेकिन अगर आने वाले भविष्य की बात की जाए तो चीजें बहुत तेजी से बदल रही हैं। ऐसे में सिर्फ इतिहास पर टिके रहना काफी नहीं है। हमें भविष्य की गति के साथ चलना होगा। यहां सबसे महत्वपूर्ण है कि हम सही लीडर्स का चुनाव करें जो हमें लगातार प्रेरित करते रहें और साथ ही हमें उन विषयों पर अपनी समझ बढ़ानी होगी, जो भविष्य में सफलता के लिए मददगार साबित हो सकते हैं। हमें यह भी ख्याल रखना होगा कि आने वाले समय में हर कदम पर प्रतिस्पर्धा हमारा इंतजार कर रही है। इसके लिए खुद को तैयार भी रखना होगा। तभी आप तरक्की की ओर कदम बढ़ा पाएंगे। 


सहयोग को बनाइए सफलता का आधार

हर कंपनी में सहयोग की संस्कृति को बढ़ावा दिया जाना चाहिए। प्रतिस्पर्धा कंपनी के बाहर होनी चाहिए। यहीं आपकी सफलता का आधार होगा। सहयोग से दो और दो का जोड़ 4 नहीं बल्कि 22 हो जाता है। भविष्य में कई सारी स्ट्रीम्स में एक साथ काम होगा और ऐसे में अगर हम एक ही एरिया में खुद को सीमित कर देंगे तो किसी भी हाल में सफल नहीं होंगे। वहीं वे लोग जो इंटरडिसिप्लीनरी बैकग्राउंड से होंगे उनके लिए सर्वाइव करना बहुत आसान होगा और वे ज्यादा डिमांड में भी रहेंगे।  


जितना सीखा है उससे ज्यादा करना होगा 

जो आप हैं आपको उससे हमेशा एक कदम आगे चलना है। आपको खुद के काम से कभी संतुष्ट नहीं होना चाहिए। आपको निरंतर आगे बढ़ते रहना है। इसके लिए आपको अलग तरह से सोचना होगा, अलग तरह से काम करना होगा और इनोवेट करना होगा तभी आप सबसे अलग बन पाएंगे। आप जिस रोल के लिए प्रशिक्षित किए गए हैं वहीं तक आपको नहीं रुकना है। आपको उससे कहीं अधिक खुद को साबित करना होगा। आपको वह करके दिखाना होगा जिसके लिए आपको ट्रेंड नहीं किया गया है। तभी आप सफलता की ओर बढ़ेंगे। 


स्ट्रेस तो होगा ही, निपटने के तरीके खोजें 

अक्सर स्ट्रेस और टेंशन आपके काम का हिस्सा होते हैं, लेकिन इनके साथ रहने की आदत मत डालिए। पेशेवर व निजी जिंदगी में कई बार ऐसा समय आएगा जब परिस्थितियां बिल्कुल विपरीत होंगी, लेकिन उस स्थिति से निपटने का एक ही तरीका है वह यह है कि आप गहरी सांस भरें और सोचें कि इससे भी बुरा आपके साथ और क्या हो सकता है। इस कल्पना से आप उस स्थिति से जुड़े सकारात्मक पहलुओं को जान पाएंगे। इससे सकारात्मक ऊर्जा के साथ उन स्थितियों से निपटने की शक्ति भी मिलेगी। अपने तनाव की वजहों को पहचानिए और उन्हें एक-एक करके खत्म कीजिए। जैसे ही पहली, दूसरी वजह खत्म होगी, बाकी समस्याएं भी खुद-ब-खुद सुलझ जाएंगी। 

Next News

कामयाबी देगी सही फैसला लेने की कला

किसी भी एक विकल्प को चुनने में जब असमंजस आपके लिए परेशानी खड़ी करता है तब आपकी निर्णय लेने की क्षमता अहम हो जाती है। आप चाहें तो अपनी इस क्षमता को विकसित

जॉब इंटरव्यू में रिक्रूटर से गलत सवाल पूछना आपका काम बिगाड़ सकता है 

याद रखें कि यह कोई सामाजिक संवाद नहीं है बल्कि एक जॉब इंटरव्यू है। सवाल के प्रकार पर अपनी प्रतिक्रिया देने के बजाय उसके सही जवाब पर फोकस करें।

Array ( )