DAVV: 2 घंटे देरी से हुआ सीईटी एग्जाम, स्टूडेंट्स हुए परेशान

2653 सीटों पर एडमिशन के लिए सीईटी मंगलवार को इंदौर के 23 केंद्रों के साथ देशभर के 27 शहरों में हुई।

एजुकेशन डेस्क, इंदौर। डीएवीवी के लगभग डेढ़ दर्जन विभागों में 48 कोर्स की 2653 सीटों पर एडमिशन के लिए सीईटी मंगलवार को इंदौर के 23 केंद्रों के साथ देशभर के 27 शहरों में हुई। दोनों सत्रों में औसत 90 फीसदी उपस्थिति रही। ऑनलाइन हुए एग्जाम में 10 से ज्यादा सेंटर्स पर स्टूडेंट्स को तकनीकि गड़बड़ियों का सामना करना पड़ा। कहीं-कहीं दो घंटे देरी से एग्जाम हुए। कुछ सेंटर पर कैलकुलेटर ले जाने पर हंगामा भी हुआ। दूसरी शिफ्ट के स्टूडेंट्स के घर पहुंचने से पहले प्रबंधन ने मॉडल आंसरशीट वेबसाइट पर अपलोड कर दी। 24 मई तक स्टूडेंट क्वेश्चन के आंसर्स पर आपत्ति दर्ज करवा सकते हैं। हर सवाल के जवाब की आपत्ति पर उसे 500 रुपए फीस लगेगी। हालांकि आपत्ति सही पाए जाने पर वह फीस लौटा दी जाएगी। पहली शिफ्ट में 8217 और दूसरी में 7420 स्टूडेंट्स ने एग्जाम में शामिल हुए।

जो पेपर 11.30 बजे तक होना था, 1.30 बजे खत्म हुआ 

पेपर डाउन लोड करने में ही 70% सेंटर्स पर 15 से 30 मिनट तक की देरी हुई। इस कारण कुछ सेंटर्स पर पहली शिफ्ट का एग्जाम 10 बजे के बजाए 10.30 बजे शुरू हुआ। नेटवर्क के कारण भी परेशानी आई। इससे 11.30 बजे खत्म होने वाली एग्जाम डेढ़ बजे तक चली। तीन सेंटर्स के 2 हजार से ज्यादा स्टूडेंट्स सुबह 8 बजे से दोपहर डेढ़ बजे तक भूखे ही रहे। वहीं उनके परिजन भी गर्मी में इंतजार करते रहे। दूसरी शिफ्ट की एग्जाम दोपहर 2 से 3.30 बजे तक हुई। पहले कैलकुलेटर की अनुमति नहीं दी गई और बाद में एनवक्त पर दे दी। इससे भी कुछ सेंटर्स पर छात्रों ने हंगामा किया। कुल 14 सेंटर्स पर स्टूडेंट्स परेशान हुए। सीईटी चेयरमैन डॉ. अनिल कुमार ने कहा 90 फीसदी उपस्थिति महत्वपूर्ण है। कहीं ज्यादा दिक्कत नहीं आई। मॉडल आंसरशीट अपलोड कर दी। वहीं कुलपति प्रो. नरेंद्र धाकड़ ने कहा जून के पहले हफ्ते में रिजल्ट जारी हो जाएगा। 

इन केंद्रों पर आई ज्यादा दिक्कत 

एक्रोपॉलिस, चमेलीदेवी और सेज यूनिवर्सिटी सेंटर पर कम्प्यूटर में तकनीकी दिक्कतें आई। ऐसे में कुछ स्टूडेंट्स को आधा घंटा देरी से एग्जाम में बैठने दिया गया। कुछ को अतिरिक्त समय दिया गया। 4 सेंटर्स पर करीब 25 स्टूडेंट देरी से पहुंचने तो वे एग्जाम नहीं दे पाए। एक्रोपॉलिस में एक स्टूडेंट को सिर्फ इसलिए लौटा दिया कि उसके पास फोटो नहीं था। जबकि वह फोटो आईडी के तौर पर आधार कार्ड लेकर गया था। कुलपति के फोन के बाद भी उसे और चार अन्य स्टूडेंट्स को एग्जाम में नहीं बैठाया गया। 

 

Next News

RU: 2 जुलाई से नया सेशन, एडमिशन के लिए 1 जून से कर सकते हैं अप्लाय

मई के लास्ट वीक तक 12वीं के सभी रिजल्ट आने की उम्मीद है।

SSC-CGL: 25 जुलाई से 20 अगस्त के बीच एग्जाम, 4 जून तक करें अप्लाय

बिहार से करीब दो लाख स्टूडेंट्स होते हैं शामिल 

Array ( )