Articles worth reading

वीरप्पन ने तीन दशक तमिलनाडु और कर्नाटक की

मेन एग्जाम 4 नवंबर को आयोजित किया जाएगा।

नीट मेडिकल और डेंटल एंट्रेंस एग्जाम

CPT: इंस्टीट्यूट ने की मॉक टेस्ट के डेट्स जारी, 26 मई तक करें अप्लाय

27 मई को पहला और 10 जून को होगा सीपीटी का दूसरा मॉक टेस्ट

एजुकेशन डेस्क, भोपाल। द इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (आईसीएआई) ने जून में होने वाले कॉमन प्रोफिशिएंसी टेस्ट के मॉक टेस्ट की डेट्स जारी की हैं। स्टूडेंट्स को एग्जाम के लिए प्रिपेयर करने इंस्टीट्यूट मॉक टेस्ट की दो सीरीज आयोजित कर रहा है। पहला मॉक टेस्ट 27 मई को होगा, जिसमें पहला पेपर सुबह 10 बजे से और दूसरा पेपर दोपहर 2 बजे होगा। दूसरा मॉक टेस्ट 10 जून को आयोजित किया जाएगा। इस परीक्षा में इस बार भोपाल ब्रांच से करीब 150 स्टूडेंट्स अपीयर होंगे।

कितनी है फीस
- स्टूडेंट्स को मॉक टेस्ट के लिए 100 रुपए प्रति पेपर के हिसाब से फीस भरनी होगी।

कब तक होंगे रजिस्ट्रेशन
- मॉक टेस्ट में अपीयर होने के इच्छुक स्टूडेंट्स 26 मई 2018 तक आईसीएआई के भोपाल ब्रांच ऑफिस में अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। 

कब है सीपीटी का एग्जाम
- सीपीटी का एग्जाम 17 जून 2018 को होगा।

कब होगा मॉक टेस्ट
- पहला पेपर: 27 मई 2018
- दूसरा पेपर: 10 जून 2018

4 सब्जेक्ट्स के पेपर अलग-अलग दिन होंगे

-  नए सिलेबस और रिवाइज्ड स्कीम की वजह से एंट्री लेवल का एग्जाम एक दिन में 4 सब्जेक्ट्स की 4 घंटे की ऑब्जेक्टिव टाइप परीक्षा तक सीमित नहीं रहेगा, बल्कि 4 दिन तक हर दिन चार विषयों के तीन-तीन घंटे के पेपर स्टूडेंट्स को देना होंगे। 
- सीए-सीपीटी में एक दिन में दो शिफ्ट में दो-दो घंटे के कुल चार पेपर ऑब्जेक्टिव टाइप होते थे। कुल अंक 200 निर्धारित रहते हैं। सीए-फाउंडेशन में 10 से 16 मई तक चार विषयों के पेपर हर दिन तीन घंटे देना होंगे, जिसमें पहले दो पेपर डिस्क्रिप्टिव टाइप व दो पेपर ऑब्जेक्टिव टाइप होंगे। 

17 जून को होने वाले CPT का शेड्यूल

पहला सेशन : 2 घंटे 
- सेक्शन-ए : फंडामेंटल्स ऑफ एकाउंटिंग (40 मार्क्स) 
- सेक्शन-बी : मर्केंटाइल लॉ (60 मार्क्स) 

दूसरा सेशन : 2 घंटे
- सेक्शन-सी : जनरल इकोनॉमिक्स (50 मार्क्स) 
- सेक्शन-डी : क्वांटिटेटिव एप्टीट्यू़ड (50 मार्क्स)

Next News

कांस्टेबल भर्ती : 16 लाख आवेदकों को दोबारा आवेदन फॉर्म भरना होगा

पुलिस मुख्यालय ने पूर्व में जारी की गई साढ़े पांच हजार पदों की भर्ती को शुक्रवार को निरस्त कर दिया।

मेडिकल कॉलेजों में इस साल बढ़ेंगी 2800 सीटें, अभी और बढ़ाई जाएंगी

पहली बार अरुणाचल प्रदेश व मिजोरम में भी मेडिकल कॉलेजों में एडमिशन मिलेगा। 

Array ( )