Articles worth reading

वीरप्पन ने तीन दशक तमिलनाडु और कर्नाटक की

मेन एग्जाम 4 नवंबर को आयोजित किया जाएगा।

नीट मेडिकल और डेंटल एंट्रेंस एग्जाम

रेलवे के फ्री वाई-फाई से कुली ने की पढ़ाई, पास किया सिविल सर्विस एग्जाम

श्रीनाथ पिछले 5 सालों से केरल के मुन्नार जिले में एर्णाकुलम रेलवे स्टेशन पर कुली का काम कर रहे हैं। काम करते-करते ही उन्होंने फ्री वाई-फाई से अपनी तैयारी की।

एजुकेशन डेस्क, तिरुवनंतपुरम। सिविल सर्विसेस एग्जाम को क्लियर करने के लिए लोग कड़ी मेहनत करते हैं और कोचिंग जाते हैं। उसके बावजूद एग्जाम क्लियर नहीं हो पाता है। मगर रेलवे स्टेशन पर कुली का काम कर रहे 10th पास श्रीनाथ ने रेलवे स्टेशन पर अवेलेबल फ्री वाई-फाई के जरिए ही अपनी पढ़ाई की और केरल पब्लिक सर्विस कमीशन के एग्जाम को क्लियर किया। श्रीनाथ ने एग्जाम को तो पास कर लिया है, लेकिन अब उन्हें गवर्नमेंट जॉब के लिए इंटरव्यू भी क्लियर करना होगा। 

लैंड रेवेन्यू डिपार्टमेंट में मिल सकती है जॉब

- 10th पास श्रीनाथ पिछले 5 सालों से केरल के मुन्नार जिले में एर्णाकुलम रेलवे स्टेशन पर कुली का काम कर रहे हैं। कुली का काम करते-करते ही श्रीनाथ ने रेलवे स्टेशन के फ्री वाई-फाई का इस्तेमाल किया और तैयारी की। 
- मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अगर श्रीनाथ इंटरव्यू भी क्लियर कर जाते हैं, तो उन्हें लैंड रेवेन्यू डिपार्टमेंट में विलेज फील्ड असिस्टेंट की जॉब मिल सकती है।.

कुलीगिरी करते-करते की पढ़ाई

- श्रीनाथ ने एर्णाकुलम रेलवे स्टेशन के फ्री वाई-फाई का इस्तेमाल किया और कुलीगिरी करते-करते ही पढ़ाई की। श्रीनाथ ने इंटरनेट के जरिए ही स्टडी मटैरियल और टीचर्स लेक्चर को सुना।
- श्रीनाथ काम करते-करते ईयरफोन लगा लेते थे और उसे सुनते रहते थे। चलते-फिरते और लोगों का सामान ढोते-ढोते ही श्रीनाथ ने सिविल सर्विसेस एग्जाम की तैयारी की।

पहली भी 3 बार दे चुके हैं एग्जाम

- मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक श्रीनाथ पहले भी तीन बार सिविल सर्विसेस एग्जाम में बैठ चुके है। उन्होंने बताया कि उन्होंने पहली बार स्टेशन के वाई-फाई का यूज अपने पढ़ाई के लिए किया। 
- उन्होंने बताया कि वो काम करते-करते ही अपनी पढ़ाई करते थे और अपने दिमाग में सवालों को हल करते थे। इसके बाद रात को समय निकालकर उसे रिवाइज करते थे।

685 स्टेशंस पर फ्री वाई-फाई की सुविधा

- 2016 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डिजिटल इंडिया कैंपेन की शुरुआत की थी। रेलटेल कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड के रीटेल ब्रॉडबैंड डिस्ट्रीब्यूशन रेलवायर के तहत पैसेंजर्स को स्टेशन पर फ्री वाई-फाई की सुविधा दी जाती है।
- रिपोर्ट्स के मुताबिक, मई 2018 तक देशभर के 685 रेलवे स्टेशन पर फ्री वाई-फाई की सुविधा अवेलेबल है। मार्च 2019 तक देशभर के 8,500 स्टेशंस को वाई-फाई फैसिलिटी से लैस करने का टारगेट रेलवे ने रखा है। इसके लिए 700 करोड़ रुपए का फंड है।

Next News

पटना की मधुमिता को गूगल में मिला 1 करोड़ का पैकेज, जानें उनके बारे में

मधुमिता को गूगल में जॉब के लिए 7 राउंड क्लियर करने पड़े। इस बीच उनके पास कई बड़ी कंपनियों के भी ऑफर आए।

CGBSE: 10th टॉपर बोले- घंटों पढ़ने से नहीं, फोकस करने से मिली सफलता

10वीं में 98.33% लाकर टॉप करने वाले यज्ञेश सिंह चौहान का कहना है कि एग्जाम से पहले टाइम मैनेजमेंट जरूरी है, ताकि सभी सब्जेक्ट्स पर ध्यान जाए।

Array ( )