Articles worth reading

CLAT 2018: 13 मई को होगा एग्जाम, यहां देखें पूरा शेड्यूल

क्लैट का एग्जाम 13 मई को कंडक्ट कराया जाएगा, इसके लिए देशभर में 63 एग्जाम सेंटर्स बनाए गए हैं।

एजुकेशन डेस्क, नई दिल्ली। देशभर की नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी एडमिशन के लिए होने वाली ऑल इंडिया कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट (क्लैट) 13 मई को दोपहर 3 बजे से शाम 5 बजे तक होगी, जबकि इसकी आंसर-की 15 मई तक अपलोड की जाएगी। इस बार यह परीक्षा कोच्चि स्थित नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ एडवांस लीगल स्टडी की तरफ से कराया जा रहा है। इस बार क्लैट में उम्र की बाध्यता को भी खत्म कर दिया गया है।

क्लैट-2018 का शेड्यूल 

एग्जाम डेट आंसर-की आपत्ति दर्ज अमेंडेट आंसर-की रिजल्ट फर्स्ट लिस्ट सेकेंड लिस्ट थर्ड लिस्ट
13 मई 15 मई 16-18 मई 26 मई 31 मई 7 जून 16 जून 24 जून

ये रहेगी एलिजिबिलिटी

- जनरल कैटेगरी के कैंडिडेट्स को कम से कम 45% मार्क्स के साथ 12वीं पास होना चाहिए। रिजर्व्ड कैटेगरी के लिए 5% मार्क्स की छूट है। 
- एलएलएम कोर्स के लिए जनरल कैटेगरी के लिए कम से कम 55% मार्क्स के साथ एलएलबी होनी चाहिए, जबकि रिजर्व्ड कैटेगरी के लिए 5% की छूट दी जाती है। 

3 दिन बचे, ऐसे करें तैयारी

- अभी एग्जाम में सिर्फ कुछ दिन बाकी है, ऐसे में एक्सपर्ट सलाह देते हैं कि स्टूडेंट्स को अब सिर्फ मॉक टेस्ट ही देना चाहिए। ऐसा इसलिए कि यदि मॉक में स्कोर कम आए तो स्टूडेंट्स हतोत्साहित न हों। 
- तीन मॉक देना काफी होगा, क्योंकि यह फुल लेंथ पेपर होते हैं, जिन्हें हल करने में तीन घंटे और फिर उनका एनालिसिस करने में समय लगता है। इस समय रीविजन ज्यादा करें।
- क्लैट एक्सपर्ट हर्ष गगरानी बताते हैं, हर दिन करंट अफेयर्स और स्टेटिक, जीके में मॉर्डन हिस्ट्री और जियोग्राफी पढ़ें। इसके अलावा लीगल एप्टीट्यूड में पिछले 10 साल के पेपर सॉल्व कर लें और इसके साथ एनएलयू दिल्ली के लीगल एप्टीट्यूड पेपर भी हल करें, ताकि प्रैक्टिस अच्छी हो जाए।
- लॉजिकल रीजनिंग में पजल और डाटा अरेजमेंट की प्रैक्टिस करें। वहीं इंग्लिश में रीडिंग कॉम्प्रिहेंशन, ग्रामर बेस्ड सवालों की जरूर प्रैक्टिस करें। मैथमेटिक्स 20 अंक का ही है, इसलिए इस सेक्शन को एक्यूरेसी के साथ हल करें।

ये टिप्स भी आएंगे काम

- बच्चों को लास्ट टाइम पर लीगल स्टडीज का रिवीजन करना चाहिए। इससे सर्वाधिक सवाल पूछे जाते हैं। 
- उन्हें दोपहर के समय कम 3 से 5 बजे के बीच कम टेस्ट आॅनलाइन सॉल्व करना चाहिए । इससे उन्हें एक्जाम देने का आइडिया पता चलेगा। 
- रीजनिंग के हर टॉपिक से 15-15 क्वेश्चन साॅल्व करना चाहिए। 
- परीक्षा के लिए वोकेवलरी को रिवाइज करना है। 
- क्लैट के पुराने पेपर भी हल करें। 

क्या होता है CLAT एग्जाम?

- CLAT एक तरह का ऑल इंडिया कॉमन लॉ एंट्रेंस एग्जाम है, जिसे देशभर की 19 नेशनल लॉ यूनिवर्सिटीज़ (NLUs) में से किसी एक यूनिवर्सिटी की तरफ से कंडक्ट कराया जाता है।
- इस एग्जाम के जरिए LLB और LLM कोर्सेस के लिए एडमिशन होता है। इस साल NUALS, कोचि की तरफ से इस एग्जाम को कंडक्ट कराया जा रहा है।

Next News

CLAT 2018: रविवार को होगा एग्जाम, ऐसा रहता है एग्जाम का पैटर्न

CLAT एक तरह का ऑल इंडिया कॉमन लॉ एंट्रेंस एग्जाम है, जिसे देशभर की 19 NLUs में से किसी एक यूनिवर्सिटी की तरफ से कंडक्ट कराया जाता है।

CLAT 2018: एग्जाम खत्म, 31 मई को आएगा रिजल्ट

इस साल क्लैट एग्जाम नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ एडवांस्ड लीगल स्टडीज़ (NULAS), कोच्चि की तरफ से कंडक्ट कराया गया।

Array ( )