Articles worth reading

CLAT 2018: आंसर-की को चैलेंज करने की आज लास्ट डेट, 31 को रिजल्ट

आंसर-की में डाउट होने पर इसे चैलेंज कर सकते हैं, जिसके बाद 26 मई को फाइनल आंसर-की जारी की जाएगी।

एजुकेशन डेस्क, नई दिल्ली। नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ एडवांस्ड लीगल स्टडीज़ (NUALS) कोच्चि ने मंगलवार रात को क्लैट-2018 एग्जाम की आंसर-की जारी की थी, जिसे चैलेंज करने का शुक्रवार को आखिरी दिन है। इसके साथ ही स्कोर कार्ड भी वेबसाइट पर जारी किए गए थे। बता दें कि क्लैट का एग्जाम 13 मई को देशभर के 63 सेंटर्स पर हुआ था।

ऐसे देख सकते हैं आंसर-की और स्कोर कार्ड

- कॉमन लॉ एंट्रेंस टेस्ट (CLAT) की आंसर-की और स्कोर कार्ड देखने के लिए सबसे पहले ऑफिशियल वेबसाइट www.clat.ac.in पर विजिट करें।
- यहां पर जाकर अपना रोल नंबर, पासवर्ड समेत मांगी गई जानकारी देकर लॉग-इन करें।
- इतना करते ही स्टूडेंट्स अपनी आंसर-की और स्कोर कार्ड देख सकते हैं।

ऐसे कर सकते हैं आंसर-की को चैलेंज

- आंसर-की या स्कोर कार्ड में किसी भी तरह का डाउट होने पर स्टूडेंट्स इसे 18 मई तक चैलेंज भी कर सकते हैं। 
- चैलेंज करने के लिए ऑफिशियल वेबसाइट www.clat.ac.in पर जाएं। वहां जाकर अपना लॉग इन कर चैलेंज कर सकते हैं।
- चैलेंज करने के लिए उस सवाल और उसके जवाब का प्रूफ भी स्टूडेंट्स को देना होगा।
- उसके बाद 26 मई को फाइनल आंसर-की जारी की जाएगी। इसके बाद रिजल्ट 31 मई को घोषित किया जा सकता है।
- नेशनल लॉ यूनिवर्सिटीज़ में सीट अलॉटमेंट के लिए पहली लिस्ट 7 जून को जारी की जाएगी। जबकि दूसरी लिस्ट 16 जून और तीसरी लिस्ट 24 जून को जारी की जाएगी।

ये हैं इस साल के टॉप रैंकर्स

- अमन गर्ग : 157.5/200
- अनमोल गुप्ता : 157.25/200
- देवांश कौशिक : 156.25/200

क्या होता है CLAT एग्जाम?

- CLAT एक तरह का ऑल इंडिया कॉमन लॉ एंट्रेंस एग्जाम है, जिसे देशभर की 19 नेशनल लॉ यूनिवर्सिटीज़ (NLUs) में से किसी एक यूनिवर्सिटी की तरफ से कंडक्ट कराया जाता है।
- इस एग्जाम के जरिए LLB और LLM कोर्सेस के लिए एडमिशन होता है। इस साल NUALS, कोचि की तरफ से इस एग्जाम को कंडक्ट कराया जा रहा है।

Next News

CLAT 2018: अच्छा स्कोर करने में काम आएंगे ये टिप्स, आजमाएं जरूर

एग्जाम में पास होने के लिए सबसे जरूरी है टाइम मैनेजमेंट। इसलिए जो आता हो, उसे पहले करें। नया सीखने में टाइम वेस्ट न करें।

CLAT 2018: री-एग्जाम की उठी मांग, 4 हाईकोर्ट में पहुंचा मामला

विभिन्न राज्यों से अभी तक करीब 1800 से स्टूडेंट्स ने दोबारा क्लैट एग्जाम कराने की मांग की है।

Array ( )