AFTER 12TH : Tea Testing में करियर का नया ऑप्शन

इस फील्ड के बारे में लोगो को कम जानकारी होने के कारण इस सेक्टर में आसानी से भविष्य बनाया जा सकता है। इस फील्ड में अभी कॉम्पिटीशन कम है जिसका आप लाभ उठा सकते हैं।

करियर डेस्क । दोस्तों आज हम एक अनूठे बेहतरीन फील्ड के बारे में बताएंगे। Tea Testing एक नया सा नाम है। जिसके बारे में शायद आपने कम ही सुना होगा। सुबह-सुबह चाय पीना हर किसी को अच्छा लगता है। अधिकतर लोग खाने-पीने की शुरुआत इसी के साथ करते है। चाय पीकर ही दिन की दिनचर्या शुरू होती है। क्या आपको पता है कि जिस चाय से आप दिन की शुरुआत करते है उसी चाय की चुस्कियों में आप एक बेहतरीन करियर बना सकते है। जी हां आप Tea Testing में अपना करियर बना सकते है। इस फील्ड के बारे में लोगो को कम जानकारी होने के कारण इस सेक्टर में आसानी से भविष्य बनाया जा सकता है। इस फील्ड में अभी कॉम्पिटीशन कम है जिसका आप लाभ उठा सकते हैं।

Tea Testing क्या है ?
इसमें आपको चाय के स्वाद को चखना होता है और इसको बेहतर कैसे बनाया जाये। इसके बारे में सुझाव देना होता है। अपनी कम्पनी के अलावा दूसरी कम्पनी की चाय से तुलना की जाती है। अपनी टी को बेहतर बनाने के लिए गहराई से शोध किया जाता है। तब जाकर ये स्वादिष्ट चाय बाजार में बिकने के लिए आती है। फिर इसे हम लोग खरीद कर इसे स्वाद से पीते हैं।

जॉब के अवसर ?
Tea Testing में करियर की बहुत अधिक संभावनाएं है। क्योंकि इस तरफ लोगो का अभी आकर्षण न होने के कारण इसमें एक सुनहरा भविष्य बनाया जा सकता है। टी टेस्टरो को बड़े-बड़े होटल व फाइव स्टार होटलों में जॉब आसानी से मिल सकती है। बड़े-बड़े होटलो में उत्तम व स्वादिष्ट चाय तैयार करने के लिए टी टेस्टरो की आवश्यकता पड़ती है। इसके अलावा टी मेन्युफेक्चरिंग की कम्पनियो में तो इनकी डिमांड हमेशा बनी रहती है।

Tea Testing कोर्स के लिए योग्यता 
टी टेस्टिंग कोर्स को करने के लिए बॉटनी विषय में ग्रेजुएशन डिग्री का होना आवश्यक है। इसके अलावा फूड साइंस, उद्यान विज्ञान या एग्रीकल्चर साइंस (कृषि विज्ञान) से 12वीं पास वाले भी इस कोर्स को करने के योग्य होते है।

वेतन 
इस कोर्स को करने के बाद शरुआती जॉब ट्रेनी में 10 से 15 हजार रुपये आसानी से मिल जाते हैं। फिर कुछ साल का एक्सपीरियंस होने के बाद 30 से 40 हजार रुपये मिल जाते है। अनुभव बढ़ने के साथ-साथ इसमें सेलरी बढ़ने की अपार संभावनाएं हैं।

कहां से करें?
बेंगलुरू इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ प्लांटेशन मैनेजमेंट अपने सर्टिफिकेट प्रोग्राम के तहत चाय के बिजनेस मैनेजमेंट, मार्केट इंफॉर्मेशन, टी टेस्टिंग की तकनीक और उसके तरीकों के बारे में अध्ययन कराता है। यह कोर्स टी बोर्ड ऑफ इंडिया और वाणिज्य मंत्रालय के सहयोग से कराया जाता है। टी उद्योग भी इस कोर्स को मान्यता देता है। इसमें छात्रों को चाय के बाजार से लेकर खपत और मार्केटिंग के गुर सिखाएं जाते हैं।

Next News

नेल्स आर्ट से करियर को दें नई पहचान

फ़ैशन के प्रति लोगों की बढ़ती जागरूकता और झुकाव के कारण नेल आर्ट एक अच्छा करियर ऑप्शन बन कर उभरा है। आप लोगों के के नेल्स को खूबसूरत बनाकर अच्छी कमाई कर

AFTER 12TH : साइन लैंग्वेज सीखकर करियर को दे नई ऊंचाई 

 साइन लैंग्वेज सीखकर आप शिक्षा, समाज सेवा, सरकारी क्षेत्र और बिजनेस से लेकर परफॉर्मिंग आर्ट, मेंटल हेल्थ जैसे क्षेत्रों में बेहतर नौकरी पा सकते हैं। 

Array ( )