UGC NET 2018: 25 अप्रैल से करेक्ट कर सकते हैं फॉर्म फिलिंग में हुई गलतियां

अक्सर कैंडिडेट्स फॉर्म भरते समय स्पेलिंग, फोटो साइज और न्यूमेरिकल मिस्टेक कर देते हैं। इसलिए सीबीएसई उन्हें इन गलतियों के सुधार का मौका देती है। 

एजुकेशन डेस्क। असिस्टेंट टीचर व जूनियर रिसर्च फैलोशिप करने वाले एप्लिकेंट्स को सीबीएसई ने यूजीसी नेट एप्लिकेशन फार्म में करेक्शन करने का मौका दिया है। कैंडिडेट्स 25 अप्रैल से फॉर्म में करेक्शन करवा सकते हैं। सीबीएसई की वेबसाइट पर जाकर इमेज करेक्शन ऑप्शन के जरिए फॉर्म में हुई गलतियों को सुधार सकते हैं। फॉर्म में करेक्शन की डेट 25 अप्रैल से 1 मई तक रहेगी। सीबीएसई का यूजीसी नेट एग्जाम 8 जुलाई को 91 शहरों में 84 सब्जेक्ट्स में होगा।

ऐसे होगा करेक्शन 

कैंडिडेट्स को सीबीएसई की वेबसाइट पर जाना होगा। फोटो वाले सेक्शन में करेक्शन से पहले स्कैन पासपोर्ट साइज फोटो, फार्म की फोटोकॉपी रखनी होगी। फोटो जेपीजी फॉरमेट में हो और उसका साइज 40 केबी से 80 केबी के बीच हो। स्कैन किए गए सिग्नेचर जेपीजी फॉर्मेट में और 4 केबी से 30 केबी के साइज में होने चाहिए।

फॉर्म में करेक्शन करने के लिए कैंडिडेट्स यहां क्लिक करें।

पैटर्न में हुआ बदलाव 

सीबीएसई ने नेट-जेआरएफ की पेपर में तीन के बजाए दो पेपर होंगे। पहला पेपर 100 मार्क्स का होगा, जिसमें 50 क्वेश्न होंगे। दूसरा पेपर भी 100 मार्क्स का होगा लेकिन इसमें 100 क्वेश्चन् होंगे। पहला पेपर सुबह 9.30 से 10.30 और दूसरा सुबह 11 से 1 बजे तक होगा। 

 

Next News

UPPSC: अब 6 मई को नहीं होगा 10768 पोस्ट पर एलटी ग्रेड टीचर रिक्रूटमेंट का रिटन एग्जाम 

रेयर केस में कैंडिडेट्स को एग्जाम प्रिपरेशन के लिए टाइम दिया जाता है। इसलिए आयोग यूपी हाइकोर्ट के निर्देश के बाद पहले से निर्धारित डेट पर एग्जाम नहीं

द्वितीय श्रेणी शिक्षक भर्ती -2016 के 9488 पदों की नियुक्ति प्रक्रिया पर रोक

राज्य सरकार ने भी अदालत में पूर्व में कहा था कि वे कोर्ट के आदेश के बिना नियुक्ति पत्र जारी नहीं करेंगे, लेकिन फिर भी सामाजिक विज्ञान विषय सहित एक अन्य

Array ( )