ब्लॉगर, एसईओ एक्सपर्ट, डिजिटल मार्केटिंग से बनाएं न्यू एज मीडिया में करियर

इंटरनेट और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स ने मीडिया का दायरा बढ़ा दिया है और यहां मिलने वाले जॉब्स की संभावनाओं को भी मजबूत बनाया हैं।

एजुकेशन डेस्क। मीडिया अब सिर्फ रेडियो, टेलिविजन और अखबार के पारंपरिक क्षेत्रों तक ही सीमित नहीं रह गया है। डिजिटल सेग्मेंट्स के आने के बाद से ही मीडिया का दायरा अब पहले से कहीं ज्यादा विस्तृत हो गया है। न्यू एज मीडिया यानी ऑनलाइन मीडिया अब इस क्षेत्र का चौथा स्तंभ बनकर सामने आया है जिसमें फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स शामिल हैं। दुनियाभर में इंटरनेट के तेजी से बढ़ते उपयोग ने इस क्षेत्र को मजबूती दी है। 


इंटरनेट यूजर्स की संख्या बढ़ी
- दरअसल इंटरनेट यूजर्स की संख्या जो कि 2012 में महज 48 मिलियन थी अब 500 मिलियन के पार पहुंच चुकी है और 2017 में इंटरनेट पर एक्टिव वेबसाइट्स की संख्या करीब 1.8 बिलियन थी।
- साफ है कि अब कम्यूनिकेशन ऑफलाइन से ऑनलाइन की ओर बढ़ रहा है और इसी के चलते मीडिया के नए क्षेत्रों में भी करियर के मौके लगातार बढ़ रहे हैं।
- ऐसे में अगर आप भी मास कम्यूनिकेशन के फील्ड में जॉब की संभावनाएं तलाश रहे हैं तो इस क्षेत्र में उपलब्ध रोजगार के क्षेत्रों के बारे में जानना दिलचस्प होगा। 

क्या है न्यू एज मीडिया 
- ट्रेडिश्नल मीडिया से बिलकुल अलग न्यू एज मीडिया अब जनसंचार के मजबूत माध्यम के रूप में सामने आया है। न्यू एज मीडिया का अर्थ किसी भी डिजिटल डिवाइस पर ऑनलाइन कंटेंट के उपलब्ध होने से लगाया जाता है।
- मीडिया के इस क्षेत्र में लोग न केवल अपनी भागीदारी निभाते हैं बल्कि फीडबैक भी दे सकते हैं। वेबसाइट, ब्लॉग, न्यूज लेटर, ईमेल व सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स न्यू एज मीडिया का ही हिस्सा हैं। 

मजबूत हैं यहां संभावनाएं 
- इंटरनेट के बढ़ते इस्तेमाल की वजह से इस क्षेत्र में रोजगार की संभावनाएं बड़े पैमाने पर उभरकर सामने आई हैं। आज फेसबुक पर एक बिलियन से ज्यादा यूजर्स और ट्विटर पर 241 मिलियन एक्टिव अकाउंट हैं।
- इसी तरह सोशल मीडिया के दूसरे माध्यमों पर भी लोग काफी संख्या एक्टिव हैं। लोगों के बीच इन सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स की लोकप्रियता को देखते हुए इन्हें मैनेज करने के लिए काफी संख्या में प्रोफेशनल्स की मांग की जा रही है।
- इस तरह के कई और रोल्स के लिए भी सोशल मीडिया में जॉब की काफी संभावनाएं सामने आ रही हैं।

 

पारंपरिक क्षेत्रों में भी बढ़ रहे हैं मौके 

प्रिंट मीडिया 
- रजिस्ट्रार ऑफ न्यूजपेपर्स फॉर इंडिया में करीब 1,05,443 न्यूज पेपर रजिस्टर्ड हैं। इसके अलावा देश में न्यूजपेपर्स की री डरशिप में पिछले तीन वर्षों में 40% की ग्रोथ भी देखी गई है। इनमें से ज्यादातर समाचार पत्रों के ऑनलाइन वर्जन भी उपलब्ध हैं जहां प्रोफेशनल्स की मांग लगातार रहती है। 

 

टीवी जर्नलिज्म 
- बढ़ते न्यूज चैनल्स के साथ ही टीवी सेक्टर में न्यूज रिपोर्टर्स के अलावा टेक्निकल टीम के लिए कैमरामैन, न्यूज एडिटर, बुलेटिन प्रोड्यूसर और वीडियो एडिटर के पदों पर मांग रहती है। वहीं ऑनलाइन चैनल्स की शुरुआत ने भी न्यू एज मीडिया से जुड़ी जॉब्स पैदा की हैं। 

 

पब्लिक रिलेशन 
- किसी कंपनी के प्रमोशन में पब्लिक रिलेशन का अहम योगदान है। एक कंपनी की पीआर टीम जितनी मजबूत होगी उस कंपनी का लोगों से जुड़ाव उतना ही अधिक होगा।
-इस तरह ऑफलाइन ही नहीं ऑनलाइन प्रमोशन के क्षेत्र में भी पीआर प्रोफेशनल्स के रूप में जॉब के कई मौके सामने आ रहे हैं। 

 

रेडियो इंडस्ट्री 
- पिछले 10 सालों में देश में रेडियो चैनल्स की संख्या में 120 प्रतिशत वृद्धि देखने को मिली है। इस क्षेत्र में रेडियो जॉकी, प्रोड्यूसर, साउंड आर्टिस्ट, वॉइस ओवर ऑर्टिस्ट के रूप में जॉब की संभावनाओं में भी कई गुना बढ़ोतरी स्पष्ट देखी जा सकती है। 
- इंटरनेट और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स ने मीडिया का दायरा बढ़ा दिया है और यहां मिलने वाले जॉब्स की संभावनाओं को भी मजबूत बनाया है। 

 

इन प्रोफाइल्स पर कर सकते हैं काम 

ब्लॉगर 
- एक प्रोफेशनल ब्लॉगर के तौर पर शुरुआत करके आप कॉर्पोरेट या पर्सनल ब्लॉग के लिए कंटेंट का कॉन्सेप्चुअलाइजेशन, राइटिंग, एडिटिंग और प्रमोशन कर सकते हैं। यहां आप किसी कंपनी या संस्थान के ब्लॉग पर पब्लिश होने वाले वेब आर्टिकल्स के लिए भी कंटेंट डिलीवर कर सकते हैं। 

 

एसईओ एक्सपर्ट 
- एक सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन एक्सपर्ट किसी ऑर्गनाइजेशन की सोशल मीडिया स्ट्रैटजी पर काम करता है ताकि उसकी विजिबिलिटी को बढ़ाया जा सके। ये प्रोफेशनल्स वेबसाइट पर कस्टमर और क्लाइंट एंगेजमेंट को बढ़ाने के साथ ऑर्गनाइजेशन के सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म हैंडल्स को मैनेज करते हैं और उन्हें लेटेस्ट जानकारी के साथ नियमित रूप से अपडेट करते हैं। 

 

डिजिटल मार्केटिंग एक्सपर्ट 
- यहां कंपनी के प्रॉडक्ट की ऑनलाइन मार्केटिंग की स्ट्रैटजी को डेवलप करने, वेब एनालिटिक्स, ईमेल मार्केटिंग और सर्च ऑप्टिमाइजेशन जैसी तकनीकों के साथ काम करना होता है। साथ ही कंपनी के ब्रांड को ज्यादा से ज्यादा लोगों के बीच पहुंचाने का काम भी डिजिटल मार्केटिंग एक्सपर्ट करते हैं। 

 

सोशल मीडिया कंटेंट राइटर 
- इन्हें किसी क्लाइंट या कंपनी की ऑफिशियल वेबसाइट पर इंफॉर्मेशन को अपडेट करना होता है। साथ ही सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर डिजिटल कंटेंट को मैनेज करने के अलावा ई-लेटर्स, ई-मेलर्स और न्यूजलेटर्स जैसे ऑफिशियल ऑनलाइन कम्यूनिकेशन के लिए कंटेंट भी उपलब्ध करवाना होता है। 

Next News

PCM के स्टूडेंट्स इंजीनियरिंग के अलावा यहां बना सकते हैं अपना करियर

इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन के लिए आयोजित होने वाली जेईई मेन के लिए आवेदन करने वाले स्टूडेंट्स की संख्या लगातार कम हो रही है। 

फैशन, डिजाइनिंग, जर्नलिज्म में स्टूडेंट्स के लिए बी-वॉक कोर्स

दैनिक भास्कर और जेईसीआरसी के सहयोग से आयोजित एजुकेशन एंड करियर फेस्ट संपन्न 

Array ( )