बेस्ट ऑफ फाइव से 16.68% सुधरा 10वीं का रिजल्ट, 12वीं में कोई सुधार नहीं

हाईस्कूल-हायर सेकंडरी रिजल्ट : नीमच प्रदेश में अव्वल, भोपाल टॉप-10 में भी नहीं 

एजुकेशन डेस्क, भोपाल। प्रदेश में हायर सेकंडरी (12वीं) और हाईस्कूल (10वीं) परीक्षा 2018 में नीमच का रिजल्ट अव्वल रहा है। स्कूलों में टीचिंग स्टॉफ, इंफ्रास्ट्रक्चर और लगातार निगरानी के बाद भी भोपाल अव्वल रिजल्ट देने वाले टॉप-10 जिलों की लिस्ट में जगह नहीं बना सका है। 12वीं में शिवपुरी के एक्सीलेंस हायर सेकंडरी स्कूल के ललित पचौरी और 10वीं में एक्सीलेंस स्कूल विदिशा की अनामिका साध व शाजापुर जिले के कालापीपल के हर्षवर्धन परमार ने स्टेट मेरिट लिस्ट में पहला स्थान हासिल किया है। 

10वीं : पहली बार 181 टॉप-10 में 
रिजल्ट में उन्हीं पांच विषयों के नंबर जोड़े जिसमें ज्यादा अंक थे 
हाईस्कूल की मेरिट लिस्ट में टॉप-10 स्थानों पर 181 छात्र-छात्राओं ने अपना स्थान बनाया है। जबकि पिछले साल यह संख्या मात्र 58 थी। हाईस्कूल परीक्षा का रिजल्ट इस बार पिछले साल के मुकाबले 16.68 फीसदी बेहतर रहना आश्चर्यजनक है। ऐसा माशिमं द्वारा लागू किए बेस्ट ऑफ फाइव सिस्टम के कारण हुआ है। इसके लागू होने से छात्रों के उन पांच बेस्ट विषयों के नंबर जोड़ दिए गए जिनमें उनके सबसे अच्छे नंबर थे। इसी से 16 फीसदी वह छात्र भी पास हो गए, जो किसी एक विषय में फेल थे। इस सिस्टम से पूरक (सप्लीमेंट्री) पात्र परीक्षार्थियों की संख्या में 59% की कमी आई है। 2017 में कुल 303716 विद्यार्थियों को पूरक आई थी, जबकि 2018 में यह संख्या घटकर 124538 रह गई है। 

ऐसा रहा रिपोर्ट कार्ड 
हायर सेकंडरी 
68.07% 
मेरिट 
छात्रा 71 
छात्र 62 

हाईस्कूल 
66.54 
मेरिट 
छात्रा 98 

छात्र 83 
 

 

12वीं में ये शहर टॉप-10 
1. नीमच 88.77% 
2. दमोह 83.71% 
3. हरदा 83.29% 
4. विदिशा 82.00% 
5. होशंगाबाद 81.54% 
6. सिवनी 81.11% 
7. आगर-मालवा 80.98% 
8. अशोकनगर 80.45% 
9. बुरहानपुर 80.13% 
10. खंडवा 79.71% 


भोपाल में नीमच से 39.65% ज्यादा स्टाफ, फिर भी नाकामी 

भोपाल में जहां 2733 शिक्षकों का स्टाफ हैं और निमच में केवल 1653 शिक्षक हैं। 

- 12वीं में शिवपुरी का ललित, 10वीं में विदिशा की अनामिका और कालापीपल के हर्षवर्धन टॉपर 

ललित पचौरी 
492/500

अनामिका 
495/500

हर्षवर्धन
495/500

12वीं की मेरिट ग्रुप्स के टॉपर 
- आर्ट्स ग्रुप शिवानी पवार, छिंदवाड़ा 476/500 
- बॉयो साइंस ग्रुप दीपल जैन बालाघाट 479/500 
- कॉमर्स ग्रुप आयुषी धेंगुला, शिवपुरी 479/500 
- एग्रीकल्चर ग्रुप संतोष रावत, शिवपुरी 480/500 
- फाइन आर्ट्स ग्रुप तमन्ना कुशवाह, भिंड 475/500 

लड़कों से आगे रहीं लड़कियां  
- माशिमं द्वारा सोमवार को घोषित किए गए दोनों रिजल्ट में लड़कों की अपेक्षा लड़कियां ज्यादा पास हुई हैं। रिजल्ट शीट के अनुसार हाईस्कूल का रिजल्ट 66.54% रहा है। कक्षा 10वीं में 64.39% लड़के अौर 72.33% लड़कियां पास हुई है, जो परीक्षा में पास हुए लड़कों की तुलना में 7.94% ज्यादा हैं। इसी तरह हायर सेकंडरी परीक्षा का रिजल्ट 68.07% रहा, जिसमें 64.09% लड़के और 69.34%लड़कियां सफल हुई हैं। 

Next News

एमपी बोर्ड: मां ने कोर्स रिकॉर्ड कर बेटे को सुनाया, बेटा 10वीं में स्टेट टॉपर

12वीं में जिला स्तर पर पास स्टूडेंट्स का प्रतिशत 71 रहा वहीं पास लड़कियों का प्रतिशत 80 से ज्यादा रहा।

5.5 लाख युवाओं के लिए मौका, GSDP के तहत सरकार देगी ट्रेनिंग

GSDP के तहत युवाओं को पर्यावरण के क्षेत्र में कॅरियर बनाने का मौका मिलेगा

Array ( )