अमेजन, विप्रो जैसी कंपनियों में भी जॉब के मौके देती है जापानी लैंग्वेज

जापानी भाषा सीखने के बाद कहां है जॉब्स के अवसर?- शिवम

एजुकेशन डेस्क। मौजूदा वक्त में जापान दुनिया की पांच बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में शामिल है और भारत का एक प्रमुख ट्रेडिंग पार्टनर भी है। दोनों देशों के बीच बढ़ते व्यापारिक संबंधों के चलते देश में जापानी कंपनियों की संख्या में भी इजाफा देखा जा सकता है। पिछले कुछ वर्षों में कई जापानी कंपनियों ने भारत में अपने बिजनेस को विस्तार दिया है। इसी के साथ इस क्षेत्र में जापानी भाषा के एक्सपर्ट्स की मांग में भी तेजी आई है। ऐसे में अगर आप इस क्षेत्र में करियर बनाना चाहते हैं तो यहां आपके लिए कई मजबूत संभावनाएं और अवसर मौजूद हैं। - रवि कुमार ( असिस्टेंट प्रोफेसर, दून यूनिवर्सिटी )

कौन कर सकता है यह कोर्स 

- बारहवीं में 50% या उससे ज्यादा मार्क्स हासिल करने वाले स्टूडेंट्स जापानी भाषा का कोर्स करवाने वाली यूनिवर्सिटीज में एंट्रेंस एग्जाम दे सकते हैं।
- डिग्री हासिल करने के साथ भाषा पर मजबूत पकड़ बनाना भी जरूरी होगा क्योंकि जापानी कंपनी में काम करने के लिए जैपनीज लैंग्वेज प्रोफिशिएंसी टेस्ट पास करना अनिवार्य होता है। 

डिप्लोमा से डिग्री तक की तैयारी 
- शुरुआती लेवल पर आपको ग्रामर के बेसिक्स से लेकर, वोकैबलरी याद करने का प्रयास करना चाहिए। कानजी कैरेक्टर सबसे बड़ा चैलेंज है जहां स्टूडेंट्स को कैरेक्टर की नियमित प्रैक्टिस के लिए समय देना होता है।
- जैपनीज लिटरेचर, न्यूज, जापानी ड्रामा सीरीज, एनिमेशन, मूवीज आदि से इस भाषा पर मजबूत पकड़ बना सकते हैं। 

देश ही नहीं जापान में भी जॉब के मौके 
- दूतावासों में काम करने या किसी जापानी कंपनी में ट्रांसलेटर या इंटरप्रिटर के तौर पर अपना कॅरिअर बनाने के अलावा स्टूडेंट्स के पास अब जापान जाकर काम करने का अवसर भी है।
- आप आईटी कंपनियों और दूसरी मैन्यूफैक्चरिंग कंपनियों के साथ-साथ अमेजन, ऑरेकल, विप्रो जैसी बड़ी कंपनियों में भी मौके तलाश सकते हैं। 

यहां से करें कोर्स 
- जेएनयू, दिल्ली,
- दिल्ली यूनिवर्सिटी, दिल्ली
- विश्वभारती यूनिवर्सिटी
- दून यूनिवर्सिटी, देहरादून
- ईएफएलयू, हैदराबाद
- बीएचयू, बनारस

- जापान में उच्च शिक्षा और रिसर्च के लिए मोम्बुशो स्कॉलरशिप दी जाती है। जापानी एम्बैसी जेनेसिस नाम की शॉर्ट टर्म स्कॉलरशिप देती है और कल्चरल एक्सचेंज प्रोग्राम भी आयोजित करती है। 
 

Next News

जानिए बायोफिजिक्स के क्षेत्र में क्या है संभावनाएं?

मैं साइंस स्ट्रीम का स्टूडेंट्स हूं, बायोफिजिक्स में कैसे करियर बनाऊं?

काउंसलर से जाने दिव्यांगों के लिए कहां हैं बेहतर करियर ऑप्शन

12वीं पास दिव्यांग स्टूडेंट हूं, कौन सा करियर चुन सकता हूं? -राहुल ओझा

Array ( )