10th के बाद थामें कैमरा करें एक क्लिक जाे यादगार बन जाए

फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी की टेक्नोलॉजी सीखने कोर्स की मदद ले सकते हैं। साथ ही साथ अपना विजन डेवलप करने के लिए लोकल और यूनीक प्लेस पर ट्रेवलिंग जरूर करें।

एजुकेशन डेस्क। बेहतर फोटोग्राफी के लिए उम्र और स्टडी से ज्यादा विजन मायने रखता है। लेकिन 10th के बाद इस फील्ड के साथ कैमरा हैंडिल करना आसानी से आ जाता है। कुछ खास टेक्नोलॉजी के साथ कैमरे काे मूव करना, स्टिल और मूविंग फोटोग्राफी के साथ वीडियोग्राफी करके बेहतर कॅरियर ऑप्शन के रूप में चुना जा सकता है। अगर पहले से ही कैमरे के लिए पैशनेट हैं तो वेकेशन्स को कैमरा हैंडलिंग सीखने के साथ यूटिलाइज कर सकते हैं। इसके बाद आप किसी प्रोफेशनल फोटोग्राफर को असिस्ट कर अर्निंग भी कर सकते हैं। 

जाने फोटोग्राफी के बेसिक रूल्स 

रूल ऑफ 1/3 
सबसे बेसिक रूल है रूल ऑफ 1/3। फोटो लेते टाइम सब्जेक्ट को सेंटर में रख लेते हैं। यह गलत है। सब्जेक्ट 1/3 हिस्से में होना चाहिए। जैसे हर फोटो के एरिया को नौ बराबर स्क्वेयर्स में बांट लें। सब्जेक्ट को किसी एक-तिहाई हिस्से के कोने पर रखें।  

सिंगल नॉट बेस्ट

फोटो क्लिक करते समय सबजेक्ट में कुछ जोड़ें। कुछ भी ऐसा, जो उसे एक मतलब दे सके। इन एक्स्ट्रा चीजों को कैमरे के निचले हिस्से में ही रखें क्योंकि आप फोटो अपने सबजेक्ट का लेंगे। एक्स्ट्रा चीजों का नहीं। 

एंगल क्या हो 

तस्वीर में ऐंगल बहुत जरूरी है। आमतौर पर सबजेक्ट के ठीक सामने खड़े होकर फोटो क्लिक करते हैं। लेकिन अच्छी तस्वीर लेने के लिए ऐसा एंगल ढूंढ सकते हैं, जो अलग हो। जहां से सबजेक्ट अलग दिखे। 

बोलती हुई फोटो

अच्छी तस्वीर में जिंदगी होती है। पत्थरों, फूलों, समुद्र, झरनों के फोटो बहुत खूबसूरत होते हैं लेकिन उनमें कुछ जिंदा हो तो तस्वीर जिंदा हो जाती है। यह कुछ भी हो सकता है कोई पंछी, बहुत दूर नजर आता कोई इंसान, कोई जानवर। 

बैकग्राउंउ का फंडा

फोटो का बैकग्राउंड मोस्ट इम्पोर्टेन्ट है। फोटो लेते वक्त बैकग्राउंड जरूर देखें। बैकग्राउंड डिस्टर्ब तो नहीं करता, क्या उसके बिना फोटो ज्यादा अच्छा होग, दूसरा बैकग्राउंड ज्यादा अच्छा होगा ये पॉइंट बेहतर फोटो लेने में हेल्पफुल होंगे। 

लाइटिंग का इफेक्ट

फोटो में लाइटिंग का बहुत अहम रोल है। डे लाइट में फोटो लेते हैं तो सूरज कहां है, इसका ध्यान जरूर रखें। एक बेसिक रूल है सूरज फोटोग्राफर के पीछे होना चाहिए। दूसरा सूरज सिर पर नहीं होना चाहिए। यही नियम बल्ब पर भी लागू होता है। 

नैचुरल फोटोग्राफी 

मॉडल्स के फोटो से बेस्ट होता है नैचुरल फोटो। अचानक बिना तैयारी के, बिना बताए उस लम्हे की तस्वीर लेना, जो अपने आप बना था। यही अच्छा फोटो है। दोस्तों के बीच हो तो अचानक फोटो लें। उस वक्त दोस्तों की मुस्कराहट असली होगी, बनावटी नहीं। 

Next News

कॅरियर की परफेक्ट ग्रोथ के लिए 10th के बाद से ही शुरू करें कॉम्पीटीटिव की तैयारी

10th के बाद स्टूडेंट्स कॅरियर की पहली सीढ़ी पर होते हैं। यहीं से कॉम्पटीटिव एग्जाम्स की तैयारी शुरू करने से सबजेक्ट पर अच्छी पकड़ बना सकते हैं।

10th के बाद दमदार आवाज का जादू बना सकता है वॉइस ओवर आर्टिस्ट

दो से ज्यादा लैंग्वेजेस का नॉलेज हो तो डबिंग आर्टिस्ट के तौर पर कॅरियर बनाया जा सकता है। लोकल एफएम और ऑल इंडिया रेडियो के लिए भी वर्क कर सकते हैं।

Array ( )