आपके करियर को नई उड़ान देंगे वोकेशनल कोर्स

वोकेशनल कोर्स जहां स्टूडेंट्स को कोई खास स्किल सिखाते हैं, वहीं इनसे उनमें आत्मविश्वास और आगे बढ़ने की ललक भी पैदा होती है।

करियर डेस्क । हमारे देश में बेरोजगारी एक बड़ी समस्या है लेकिन इसके पीछे का सच यह भी है कि यहां लोगों के पास काम करने के स्किल नहीं है। यही सोचकर भारत सरकार ने स्किल इंडिया की शुरुआत भी की है। स्किल्ड इंडिया के तहत लोगों को किसी न किसी ट्रेड में दक्षता हासिल करवाई जा रही है। बहुत सारे राज्यों में नौवीं और दसवीं क्लास से ही वोकेशनल कोर्स के बारे में भी बताया जाता है। वोकेशनल कोर्स जहां स्टूडेंट्स को कोई खास स्किल सिखाते हैं, वहीं इनसे उनमें आत्मविश्वास और आगे बढ़ने की ललक भी पैदा होती है।

जानिए क्या हैं वोकेशनल कोर्स?
वोकेशनल कोर्स में स्टूडेंट्स को किसी खास फील्ड के ट्रेड्स के बारे में बताया जाता है। कोशि‍श रहती है कि युवाओं को इस क्षेत्र में पूरी तरह दक्ष बनाया जाए। देश के कई सरकारी और प्राइवेट इंस्टीट्यूट्स युवाओं को वोकेशनल कोर्स के बारे में बता रहे हैं। इनकी मदद से आपको नौकरी खोजने में आसानी रहती है।

ये कोर्स हैं उपलब्ध 
यह कोर्स कई तरह के फील्ड जैसे, हेल्थ केयर, ग्राफिक, वेब डिजाइनिंग, फूड टेक्नोलॉजी, कॉस्मेटोलॉजी में ऑफर किए जाते हैं। इसके अलवा तकनीकी कामों जैसे ऑटोमोटिव रिपेयर, प्लम्बिंग और एयरकंडिशनिंग में भी ऑफर होता है।

कौन कर सकता है वोकेशनल कोर्स
10वीं से कम पढ़े-लिखे लोग भी करते हैं. हर कोर्स के हिसाब से इसमें योग्यता तय की जाती है। 10वीं/12वीं पास से लेकर ग्रेजुएट पास तक वोकेशनल कोर्स कर सकते हैं।

जानिए हमारे यहां कौन से वोकेशनल कोर्स हैं लोकप्रिय


डिप्लोमा इन ग्राफिक डिजाइनिंग/वेब डिजाइनिंग: वे स्टूडेंट जो क्रिएटिव हैं उनके लिए यह कोर्स परफेक्ट है। यह कोर्स कई प्राइवेट इंस्टीट्यूट्स में उपलब्ध है. इसको अच्छी तरह सीखने के बाद आप चाहें तो इसमें खुद का बिजनेस भी शुरु कर सकते हैं।

होटल मैनेजमेंट: इस कोर्स में वे ही स्टूडेंट हाथ आजमाएं जिन्हें खाना बनाने और सर्व करने में दिलचस्पी हो, ऐसे स्टूडेंट हॉस्पिटेलिटी मैनेजमेंट के फील्ड में भी जा सकते हैं. कई सरकारी और प्राइवेट कॉलेज लॉन्ग टाइम और शॉर्ट टाइम का कोर्स इसमें कराते हैं।

टूरिज्म: भारत में यह फील्ड तेजी से उभर रहा है और यह इंडस्ट्री का रूप भी ले चुका है। इसमें आपको घूमने का मौका भी मिलेगा और अच्छी सैलरी भी। आप इसमें डिप्लोमा और डिग्री कोर्स दोनों कर सकते हैं। यहां आपको टूरिस्ट गाइड से लेकर पूरे टूर को अरेंज करने का काम मिल सकता है।

इन वोकेशनल कोर्सेज में कर सकते हैं डिप्लोमा


टेलिकम्यूनिकेशन
कंप्यूटर साइंस
इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग 
इवेंट मैनेजमेंट 
केटरिंग मैनेजमेंट 
फूड प्रि‍जरवेशन 

इन वोकेशनल कोर्सज में है सर्टिफिकेट कोर्स


ब्यूटी कल्चर
हेयर डिजाइन 
हाउसकीपिंग
क्लिनिकिल न्यूटरिशन
कॉरपोरेट कम्यूनिकेशन
ऑफिस मैनेजमेंट

वोकेशनल कोर्स करने के फायदे


यह किसी खास कोर्स में प्रैक्टिकल करना आपको सिखाता है।
देश में स्किल्ड लोगों की संख्या इससे बढ़ती है।
ये कोर्सेज विषय के ज्ञान के साथ-साथ क्रिएटिविटी को बढ़ाते हैं।
इससे लोग जल्द आत्मनिर्भर होते हैं।
रोजगार मिलने की संभावनाएं ज्यादा रहती है।

भारत के ऐसे कॉलेज जो वोकेशनल कोर्स ऑफर करते हैं


अब्दुल कलाम इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजिकल साइंस

फ़ोन: 087452 57350

http://www.akits.ac.in/


इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट, देहरादून

फ़ोन: 070601 30567

http://www.itmddn.com/

Next News

करियर को पैशन के साथ जोड़ना है तो चुनिए ये ऑफबीट कोर्सेज

स्टूडेंट‌्स के लिए पारंपरिक कोर्सेज से हटकर आॅफबीट आॅप्शन्स की ओर रुख करना जरूरी हो गया है। देश के कई संस्थान ऐसे आॅफबीट कोर्स उपलब्ध करवा रहे हैं, जो

ब्लॉगर, एसईओ एक्सपर्ट, डिजिटल मार्केटिंग से बनाएं न्यू एज मीडिया में करियर

इंटरनेट और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स ने मीडिया का दायरा बढ़ा दिया है और यहां मिलने वाले जॉब्स की संभावनाओं को भी मजबूत बनाया हैं।

Array ( )